Keyword research kaise kare? 2020 ultimate guide

Keyword Research kaise kare

Keyword research कैसे करें ? क्या आप भी इस सवाल से परेशान है? आपने बहुत से keyword research karne ke tareeke सूने होंगे। कही ना कहीं youtube पर या paid courses में ।

पर शायद आप यहां इसलिए ही आये हैं, क्योंकि अब वो तरीके काम के बिल्कुल नही है। google अब बहुत ही advance हो गया है और अब ऐसे ही किसी भी keyword पर article लिखने से वो रैंक नही होगा।

तो आखिर, keyword research kaise kare?

जब भी हम कोई आर्टिकल कोई article लिखते है तो उसका एक topic होता है, जिसके आस पास ही आपका content आपको लिखना  होता है।  अगर SEO के नज़रिये से देखे तो, Keyword research एक बहुत ही महत्वपूर्ण step होता है, अगर आपने सही keyword को find करलिया तो आपका आधा काम तो वही हो जायेगा। 

आज मैं आपको बताऊंगा के आप कैसे, आसान तरीके से हज़ारों keywords और blog post ideas को ढूंढ सकते हैं। इन सारे keywords को ढूंढने के लिए आपको किसी paid tool की ज़रूरत नही पड़ेगी।

हम आज बात करेंगे के free में keyword research kaise kare, साथ ही में कुछ  ऐसे tips भी दूंगा जिससे आपको अपना article rank कराने में काफी मदद मिलेगी।

इस post को आखिर तक ज़रूर पढ़ें, और अगर आप इन तरीकों को सही से इस्तेमाल करेंगे तो आपका 80% SEO हो जाएगा।

पर इससे पहले के हम ये पता करें के keyword research kaise karte hai, मैं चाहूंगा के आप ये भी जाने के keyword research kya hota hai? 

Keyword research kya hai? (What is keyword research in Hindi)

keyword research कैसे करें ? Keyword research kaise kare?

आप ने बहुत से bloggers या youtubers को ये बोलते हुए सुना होगा, ” एक बार आप keyword research सही से करलो तो post rank हो जाएगा “। 

पर कोई ये नही बताता के keyword research kaise kare? और जो बताता है वो आधी अधूरी जानकारी आपको दे देगा और आप उसे try करोगे फिर बोलोगे results नहीं आये।

“आएंगे भी कैसे” जिसे आपने देखा तो वो views कमा के चला गया।

बात करते है के keyword research kya hai? 

जब भी हम कोई online content publish करते हैं, चाहे वो youtube या websites, blogging तो हम एक topic के आसपास apne content को रखते हैं, उस main topic को ही keyword कहा जाता है ।

 जैसे, मुझे एक article लिखना है ” facebook se paise kaise kamaye” तो ये मेरा keyword होगा। अब मैं article ऐसे लिखूंगा के “facebook se paise kamane ke tareeke” या ऐसा कुछ।

तो आपने बहुत सारे keyword types के बारे में सुना होगा, अब उसी के बारे में बात करते हैं ।

Seo के लिए keyword research क्यों ज़रूरी है ?

आब आपके मन मे ये सवाल होगा के why is keyword research important ? या seo ke liye keyword kyun zaroori hai। तो मेरे पास इसका एक जवाब है ।

On page seo करने के लिए keyword सबसे ज़रूरी चीज़ होती है। SEO(search engine optimization) आपके पेज को search engine result page (SERP) में aapki position set करता है या आपके page को google par rank करता है। अगर आप keyword research और seo में confuse हो रहें हैं तो बस इतना समझ लीजिए के seo का मतलब होता है search engine optimization.

मान लीजिए आप एक पोस्ट लिखते हैं, तो अब आप चाहते है के लोग आपके पोस्ट को सर्च करे और उसपे ज़्यादा से ज़्यादा traffic आये। परर सवाल ये है के google को aapke post या page के बारे में पता कैसे चलेगा । तो यहाँ seo आपकी मदद करता है।

seo के मदद से search engine के लिए आप अपने content को ऑप्टिमाइज़ कर सकते है और google par rank भी कर सकते है । इससे आपके website par traffic भी आएगा और आओकी website की ranking भी बाद जाती है। seo करने के लिए और search engine में rank करने के लिए आपको जो सबसे ज़रूरी चीज़ है वो है keyword।

Keyword को इस्तेमाल करने के लिए हमारे पास कुछ options होते है जैसे के अपने post में उसे define करना और और एहि जगह होती है meta description, पर अब google के algorithms mein update के बाद google automatically keywords को detect करता है।

Keywords कुछ इस तरीके से भी हो सकते है “seo kya hai” अगर कोई ये keyword को search krke मेरे इस पोस्ट प र आता है, तो ये गलत है क्यों कि मैंने इस पोस्ट में seo के baare में बात नहीं की है।

इससे होगा क्या के लोग मेरी साइट से वापस लौट जाएंगे और मेरे वेबसाइट का bounce rate बढ़ jayega जिसकी वजह से आपके site की ranking काम हो जाएगी ।

अगर आपको bounce rate के बारे में नही पता तो आप यह क्लिक करके पढ़ सकते है।

तो आपको ये समझना भी ज़रूरी है के आप वही keywords का इस्तेमाल करे जो के aapke post से related हो या post को define करता हो।

अगर आपके मन में ये सवाल है के ये ranking या page ranking क्या बला है या page ranking को करता है, तो ये जान लीजिए के ये google ranking न तो कोई इंसान करता है न ही कोई google का employee करता है बल्कि ये सब तो google ke algorithm करता है जो के कुछ codes से बना है और खुदसे decision लेना जानता है।
Google ke algorithm को बेवकोकफ बनाना न मुमकिन के बराबर हो गया है।

Ranking का मतलब search engine result page (serp) पर कहाँ दिखाई देता है बस वही page rank होता है। आप कई free tools जैसे के semrush और ahrefs का इस्तेमाल करके आप अपने website के ranking को चेक कर सकते है और कौन कौन से keywords के लिए आपकी site rank करती है।

Keywords के प्रकार ? Types of keywords in hindi 

एक expert keywords को 3 categories में बांटता है, जो के आपके समझने और काम करने के तरीके पर टिक हुआ होता है।

Keywords तीन तरीके के होते है। 

Keyword research kaise kare? keywords कितने तरीके के होते है ?
Keyword research kaise kare? keywords कितने तरीके के होते है ?

1.short tail या one word keywords

आपने भी कभी कभी कुछ ऐसी चीज़ google पर search की होगी जैसे,”shoes” और आपको कुछ search results शो हुए होंगे। 

Aise keywords को one word keywords कहा जाता है, जिसमे target सिर्फ एक word पर किया जाता है, पर अभी के समय में इस तरीके के keywords को इस्तेमाल नही किया जाता है।

One word kwywords बहुत ही ज़्यादा competitive होते है और इसपर सिर्फ high authority websites ही रैंक होती है। beginner के लिए इन keywords पर रैंक करना ना मुमकिन से होता है। 

 कभी कभी ये 1 से 2 words का भी हो सकता है जैसे “digital marketing”.

 अब हम अगर adwords पर चेक करें तो हमे पता चलेगा के इन keywords पर बहुत ज़्यादा competition है और साथ ही आपको search volume और CPC भी देखने को मिल रहा है। 

और अगर हम गूगल पर search करें तो हमे पता चेलगा के इस keyword पर सारी high authority blog ही rank कर रहे हैं।

2.long tail Keywords

 Long tail keywords ऐसे keywords को कहा जाता है जिनसे एक user intent satisfy हो रहा हो, जैसे ” what is digital marketing in hindi” ।

आपके बेहतर समझाने के लिए मैने नीचे screen shots दिए है जहां के आप इस keyword का xompetition और sewrch volume देख सकते है।

साथ ही अगर हम google पर top10 results को देखें तो हमे पता चेलगा के इसपर उतनी authority blogs नही rank कर रही है तो आप आसानी से इनपर काम कर सकते है और रैंक कर सकते है।

Long tail kwywords 3 या उनसे ज़्यादा शब्दो का होता है, जिससे के आप user की problem को भी आसानी से solve कर पाएंगे और समय के साथ साथ आप short tail keywords पर भी rank करने लगेंगे।

3. LSI Keywords ( latent symmatic indexing)

अब जब हमने ये जान लिया है की keyword kya hota hai, तो चलिए अब बात कर लेते हैं के keyword research kya hai? और kaise करते हैं?

LSI का पूरा नाम है Latent Sementic Indexing ये एक तरीका होता है जिसव के ये पता लगाया जाता है के page title और page content में क्या relationship होता है। जब search engine crawl bot आपके पेज पर आता है तो वो common words को ढूंढता है और यही LSI काम आता है।

आपके focus keyword से मिलते जुलते शब्दो को LSI आपके content में ढूंढता है। ये automatic होता है इसलिए आप इसे बेवकूफ नही बना सकते है। इसलिए keywords को वही इस्तेमाल करना है जहाँ उसकी जरूरत होती है।

मां लीजिये अगर आपके पोस्ट का title है “budget smartphones ” तो आपके content में “cost effective” जैसे शब्दों को ये आपके पोस्ट में ढूढ़ता है।

Keyword research kaise kare? आसान तरीके !

Aise blog post ideas और topics को ढूंढने के technique को keyword resesrch कहा जाता है । keyword research सिर्फ इतना ही नही होता। 

Keyword research करते समय आपको बहुत से ऐसे factors को देखना पड़ता है, keyword competition, search volume और CPC जैसे बहुत से points है जो के आपके ranking में effect कर सकते है। 

Keyword golden ratio भी ऐसी ही एक technique है जिससे के हम low competition keywords को ढूंढ सकते है और उसपर काम कर सकते है।

अब में आपको keyword aur keyword resesrch kaise karte hai ये बता चुका हूँ, अब बात करते हैं keyword research karne ke tareeke के बारे में ।

  1. Check your surrounding
  2. Use the google keyword planner
  3. Check for competition and search volume
  4. Use google auto suggest to find LSI keywords
  5. Use google trends
  6. Use google recommendation
  7. Use keyword surfer extension
  8. Check already ranking articles in Google SERP for the same keyword।
  9. Use MOZ bar

क्या keyword research ज़रूरी है ?

इसका जवाब है – हाँ

अगर आप अपने blog पर बहुत ज़्यादा traffic लाना चाहते है तो blogging का सबसे पहला स्टेप ही होता है keyword research. अगर आप सबसे अच्छा content लिखते है , पर उसपे keyword research नही करते तो आपके उस content लिखने का कुछ फायदा नही होगा क्योंकि गूगल उसे रैंक ही नही करेगा।

जैसा कि नीचे screenshot में आप देख पा रहे होंगे के अगर आप गूगल पर search करते है के “online paise kaise kamaye” तो आपको 6,29,000 search results मिलते है |


जिसका मतलब ये है के अगर आप अच्छे से keyword research नही करते है तो आपका content यह कभी नज़र ही नही आएगा और आपके website पर traffic भी नही आएगा।

Bloggers के लिए best keyword research tools (free and paid)

वैसे टी market में keyword research के लिए बहुत सारे tools मौजूद हैं। पर में आपको कुछ ऐसे free aur paid tools बताऊंगा जिसे इतेमाल करके aapko keyword ढूंढने में बहुत आसानी हो जाएगी।

1.google keyword planner

गूगल keyword planner से Keyword research kaise kare?

Google द्वारा बनाया गया ये एक free to use tool है जो के google ads के साथ आता है।
आप इस tool का इस्तेमाल करके आसानी से long tail keyword को खोज सकते है साथ ही उस keyword पर competition, cpc search volume और monthly searches जैसी काफी सारी चीज़ें आपको फ्री में बता देता है । जीसीके लिए आपको अन्य websites या tools के लिए अच्छे खासे पैसे खर्च करने पड़ते है । यही ये कारण है के ये google keyword planner इस लिस्ट में सबसे टॉप पर है।

2. Google auto complete tool

जब भी आप कभी गूगल में कुछ सीएच करने जाते है, और सीएच बॉक्स में कुछ type करते है तो google आपके लिए इस sentence को complete kar देता है। आप गूगल के इसी feature का फायदा उठा कर best long tail keywords को ढूंढ सकते है। आपको बस इतना करना है के आप अपना में keyword search बॉक्स में type कीजिये और आपको उससे related बहुत सारे keywords मिल जाएंगे जिनका आप इस्तेमाल कर सकते हैं।

3.Google suggest tool

Google आप अपना main focus keyword search कीजिये तो आपको गूगल बहुत सारे related searches दिखाने लग जायेगा। आप उन keywords का इस्तेमाल करके अपने पोस्ट को rank कर सकते है।

4.Semrush

Keyword research kaise kare?

ये एक paid tool है जो के aapko keyword से related सारी जानकारी बता देता है। यह तक कि ये tool आपको ये भी बता देता ह के कोनसी और sites है जो उस keyword पर rank कर रहे हैं और आपका कम्पटीशन कोनसी sites के साथ है।
इसका लगभग $99 per month से प्रीमियम version शुरू होता है

5.Ubersuggest

Niel patel द्वारा बनाई गई ये website बहुत ही काम के website है क्यों कि आपको इसका free version भी use करने को मिल जाता है। ये वो features देता है जो के आपको बहुत ज़्यादा महँगे tools में ही मिलता है, हालांकि इसके भी कुछ restrictions है जिसको हटाने के लिए आप इसका paid version भी ले सकते है। इस tool के help से आप अच्छे long tail keyword को खोज सकते है।

 6.Ahrefs

ये bloggers के बीच एक बहुत ही लोक प्रिये tool है। जहाँ के आपको आपके keyword से related सारी जानकारी मिल जाती है बाकी आप अपनी website को भी analyze कर सकते है और अपने competitor पर भी नज़र रख सकते है । ये भी एक paid tool है और नीचे दिए हुए लिंक से जाकर आप इसे चेक कर सकते है।

7.Google related searches

जब भी आप कोई चीज़ सर्च करते है तो उस page के bottom में related searches करके एक column होता है जहाँ आपको आपके keyword से related बाकी searches भी दिख जाते है कि लोग और क्या search करना पसंद करते है।
आप वहाँ से भी बहुत से low competition keywords को उसे कर सकते है।

Keyword research kaise kare?

ये kuch keyword research tools है जो मैं खुद उसे करता हु और आपको भी यही उसे काएँगे की सलाह देता हूँ।

Keyword research के क्या क्या फायदे है ?

Keyword research के बहुत से फायदे है जैसे के ये आपके साइट पर traffic लाने में मदद करता है और साथ ही आपके पोस्ट को रैंक करने में भी सहायता करता है।

  • Keyword research करने से आपके साइट को popularity मिलती है।
  • keyword research से आपके site का traffic badhta है।
  • आपको नए trends के बारे मेंप्त चलता है
  • keyword research करके आप अपने site कप google पर अच्छा रैंक कर सकते है
  • आपको उस keyword पर competition और साथ ही search volume का भी पता चल जाता है।
  • Keyword research से indirectly आप अपने site के domain authority को भी increase कर सकते है।
  • अगर आप अच्छा रैंक करते है तो आपके sites के backlinks की संख्या भी badh जाती है।

Conclusion और keyword research पर कुछ quick tips

  • नए ब्लॉग के लिए हमेशा long tail keywords का ही इस्तेमाल करे।
  • ऐसे keywords का इस्तेमाल करिये जिसका search volume अच्छा हो।
  • Post में फालतू में keywords का इस्तेमाल न करें, जहां जरूरत लगती है सिर्फ वही करें।
  • Keyword research करने के लिए google auto suggest और keyword planner का इस्तेमाल करें।
  • Short tail keywords को use ना करें , क की उनपर rank करना बहुत ही मुश्किल होता है।
  • Keyword research करते हुए cpc का भी ध्यान रखें , अगर आपके keyword पर cpc (cost per click) काम होगा तो आप google adsense से बढ़िया earning नही कर पाएंगे।
  • हमेशा high cpc वाले keywords का चयन करें।

आशा करता होकेन आपको हमारा ये post “keyword research kaise kare ” अच्छा लगा होगा और आपको इससे कुछ सीखने को मिला होगा। अगर आपको ये पोस्ट अच्छा लगा तो आप इसे शेयर जरूर करें ताकि ज़्यादा से ज़्यादा लोगो को हम ये सिख पाये।

अगर आप keyword research kaise kare इसके बारे में कुछ पूछना चाहते है तो नीचे कमेंट बॉक्स में लिख कर पूछ सकते हैं | आप हमें अपने keyword research karne ka tareeka भी ज़रूर बताइए और साथ ही पोस्ट को भी अधिक से अधिक शेयर कीजिये।


धन्यवाद

happy blogging.                     

Content writing se paise kaise kamaye ? content writing jobs कैसे ढूंढे

Content writing se paise kaise kamaye _.png

आज के समय में content writers 4 रुपए चार्ज करते हैं और वह लोग काम भी कर रहे हैं । आप सोचो ₹4 per word  के हिसाब से  1000 वार्ड का ₹4000, इससे भी ज्यादा लोग चार्ज करते हैं । आज हम जानेंगे के content writing se paise kaise kamaye.

नमस्ते दोस्तों आपका स्वागत है दैनिक डोज़ के  एक और शानदार और informative post में। दोस्तों आज के इस पोस्ट में मैं आप से बात करूंगा के content writing क्या होती है । मैंने content writing पर रिसर्च किया, और फिर ये post मैं आपके पास लाया हूँ। हमारे इस पोस्ट को पूरा पढियेगा जहां आपको पता चलेगा के content writing se paise kaise kamaye और साथ ही content writing jobs जैसी बहुत सारी चीज़ें । तो अगर आपको ये post पसंद आये तो इसे social media पर ज़रूर शेयर करियेगा।

Content writingएक ऐसा job है जिसे कोई भी कर सकता है, कोई भी कहने का मतलब की चाहे आप student हो housewife हो या फिर कुछ काम करते हो, कुछ जॉब करते हो आपको part time job चाहिए जहां से आप अच्छा पैसा कमा सके, उनके लिए भी content writing काफी सही job हो सकता है, जो आपको मंथली इसलिए आप 15 से ₹20000 निकाल कर दे देगा।

क्या आपको पता है? आपको ज्यादा काम भी नहीं करना है, जैसे अगर आप दो से तीन घंटे दिन में दे पाते हो content writing के लिए तो अब आराम से महीने का 15 से लेकर ₹25000 तक आराम से बना लोगे और जैसे-जैसे आपका experience बढ़ता जाएगा आप 30 से 50 से ₹70000 तक आप जा सकते हो ।

Content Writing Kya hota hai? What is content writing in Hindi?

ये पता करने से पहले की Content Writing Kya hota hai? चलिए हम बात करते है  के content kya hota hai? आप कोई वीडियो देखते हो , आप कोई image देख रहे हो, उस image से कुछ story निकल कर आ रही है । तो उसे image content कहा जायेगा । ऐसे ही हम writing की बात कर रहे हैं, यानी कि text की बात कर रहे हैं ।

आपने कभी भी google पर कोई query search करते हो तो उसके बदले में आपके सामने कुछ search results आते हैं, और जब आप उन पर क्लिक करते हैं तो वहां पर text के रूप में एक बड़ा सा article आ जाता है । उसी को हम content बोलते हैं । text के form में हमें उसी तरह का article बनाना है दूसरे bloggers के लिए दूसरे websites और इस पोस्ट में हम यही बात करेंगे के content writing kya hoti hai? और साथ ही आप content writing se paise kaise kamaye। 

दोस्तों  content wiritng के बारे में बताने से पहले मैं आपको एक interesting story share करना चाहता हूं,  मैंने अपने online career की शुरुआत content writing से ही की थी ।

Content writing se paise kaise kamaye – मेरा personal Experience

Yes, content writer तो आपने बिल्कुल सही सुना मुझे इंग्लिश नहीं आती थी मैं हिंदी में दूसरे लोगों के लिए लिखता था । हिंदी में article के बदले में 200 से लेकर ₹300 तक मुझे pay करता था ।

पर आर्टिकल और कितने word का article होता था, around 500 से लेकर 1500 के बीच में एक article होता था, पर तब मैं per articleके हिसाब से मैं charge कर रहा था।   उसके बाद मुझे पता चला कि हम एक एक word का पैसा charge कर सकते हैं ।इसको को बोलते हैं PPW (pay per word) उसके बाद मैंने खुद का ब्लॉग शुरू किया और खुद के ब्लॉक पर काम करना चालू कर दिया और वहां से मेरी income आनी भी शुरू हो गयी लेकिन अगर आप अपना खुद का blog नहीं बनाना चाहते आप चाहते हो कि आपको एक हफ्ते में ही या फिर जल्दी income होने लगे तो content writing आपके लिए बहुत सही job हो सकता है। साथ ही साथ ये एक side income भी हो सकता है ।

पर आखिर content writer kaise bane ? जैसा कि मैंने बताया आप अगर content writer बनना चाहते है तो सबसे पहली चीज़ आपको लिखने में interest होना चाहिए और लिखने में मज़ा आना चाहिए अगर मजा नहीं आ रहा, तो आप सिर्फ पैसे के लिए भी कर सकते हो लेकिन वो बड़ा frustrating सा लगेगा ।

Content writing कैसे करें? Content writing is paise kaise kamaye

Content writer बनने के लिए आपको research करना पड़ेगा, सबसे पहले अगर basic step की बात करें तो कोई भी topic आपको मिला या आपको किस टॉपिक पर लिखना है तो उस topic को पहले तो आप google में search करो, गूगल में search करो वहां आपको चार-पांच top results आएंगे, उन article को open करो उस article को पढ़ो और समझो ।

उसको पढ़ने के बाद आप analyze करो के किस में कौन-कौन सी information है और आप उसे better कैसे बना सकते हो। आप क्या कर सकते हो उसमें थोड़ा information add करके उससे बढ़िया एक article बना सकते हो  ज्यादा तर content writers ऐसे ही content लिखते है, शुरू शुरू में आपको मजा नहीं आएगा तो आपको practice करनी है ।

Practice कैसे कर सकते हैं? आपने दिन भर में जो चीजें करी है, आप उसको आप लिखो साथ ही SEO practice करने के लिए आप खुद का blog बना सकते हो । जहां पर आप article लिखोगे तो आपको आदत से हो जाएगी साथ ही साथ आपको थोड़ा SEO के बारे में भी knowledge लेना पड़ेगा, साथ ही online जितना भी कंटेंट होगा वो user friendly होना चाहिए अगर content user friendly नही होगा तो जो आपसे contentलिखवा रहा है वह आपको मना कर देगा। तो बेहतर यही होगा के आप content को user friendly रखें जिससे होगा ये के आपकी demand भी बढ़ेगी।

इसी के साथ आपको ध्यान रखना है के आप किसी को copy न करें plagiarism बिल्कुल 0 होना चाहिए, अगर ऐसा नही होगा तो आप आगे नही बढ़ पाएंगे।  होगा ये के आपका content writing career शुरू होने से पहले ही खत्म हो जाता है।

content कैसे लिखते हैं ? how to write a Content ?

  • सबसे पहले आपने टॉपिक ढूंढ लिया 

  • टॉपिक ढूंढ लिया आपने उसके बारे में रिसर्च कर ली पूरा प्रॉपर्टी सर्च कर लिया उसके बारे में आपको एक ओवर भी मिल गया एक आईडिया मिल गया कि actual में वो topic है क्या और आप कैसे  इसके बारे में लिख सकते हो।

  • इसके बाद आओ main main points को नोट kijiye जिसे आप article में explain करना चाहते है।
     
  • हमारा जो first paragraph होना चाहिए उसमें हम intro के साथ शुरुआत कर सकते हैं, जो भी हम content लिख रहे हैं ।
  • उसके बाद हम आते main content पर जो हमारा main explanation होता है, और इसके बाद आप चाहे तो pros and cons को भी लिख सकते है।

  • उसके बाद हम advantage disadvantage या फिर उस से related जो भी और दूसरी चीजें हैं या questions हैं, आप उस को add कर सकते हैं ।

  • इसके बाद हम लास्ट में एक conclusion add कर सकते हैं उस चीज के बारे में जिसके बारे में आप कांटेक्ट बना रहे हो 

  •  एक proper content structure कुछ इस तरीके का हो सकता है । 

लिखने के बाद आपको क्या करना है?

Content writing में जो अगला step है वो है proof reading करना, मतलब आपने कुछ spelling mistakes या gramatical error हो तो उस content को आपको proof read करना है । एक बार सब ठीक से चेक करना है या उसको हम editing भी बोल सकते हैं ।

बाद में हम उसको edit भी कर सकते हैं कुछ और sentence खराब लग रहा है तो हम उसको निकाल सकते हैं मतलब फालतू की चीजें हम को addनहीं करनी है ।

हमको too the point चीजें ही content में लिखनी है । user intent को ध्यान में रखते हुए लिखना है जो रीडर पड़ेगा उसके इंटेंट को ध्यान में रखते हुए लिखना है । जो भी topic हम लिख रहे हैं, हम user की जो query है उसको हम solve करते हुए उस article को बनाएंगे तो वह ज्यादा बेहतर quality article होगा। content writing se paise kaise kamaye?

Best Content Writing tools – जिससे आपका content और भी अच्छा हो जायेगा।

अब मैं आपको कुछ content writing tools recommend करना चाहूंगा जो मैं खुद इस्तेमाल करता हूँ और इन tools के इस्तेमाल से मैं अपना सारा content लिखता हूँ। और content writing के tools है gramarly है जिसका use करके आप mistakes खोज सकते हो कहीं  gramatical error है या फिर कुछ spelling mistake है तो आप gramarly extention से हमे पता चल जाएगा के  कहां कहां पर mistake है, और हम उसे एक click में ही उसको दूर कर सकते हैं ।

अगर आप को जरा सा भी experience नहीं है content writing का तो आप शुरुआत करने के लिए youtube videos को देखिए और youtube videos को ही आप टtranscript कर दीजिए हिंदी में इंग्लिश में जिस भी भाषा में आप वीडियो देख रहे हैं। उसको as it is आप लिखिए फिर आपको एक idea लगेगा कि हाँ यार कुछ इस तरह का article होता है।

Content writing se paise kaise kamaye? content writing jobs कैसे ढूंढे

Try कीजिए मैंने भी ऐसे ही ट्राई किया था, बात कर ले हैं के आप content wiritng se paise kaise कमा सकते हो से आप कैसे client को approach  करेंगे, भाई हमें काम दे दो हमें content writng करना आता है?  तो चलिए सबसे पहले आपको बता दूँ के आपको कुछ samples बना लेने हैं, कुछ topics पर जैसे, जो भी आपका interest है उसी हिसाब से आप डिसाइड करो, इसमे interest लें ताकि आपको लिखने में आराम हो

  • write about things you already know :- जिस काम के बारे में जानकारी है उसी काम से related ही article पर focus करेंगे उसी से related content में focus करेंगे तो आप अच्छा लिख पाएंगे और आपको रिसर्च करने में भी आसानी होगी ।

  • choose topic of your interest :- इसलिए ही topic चूस करना सबसे ज़्यादा ज़रूरी है अगर आप interest का topic चूस करते हो तो आप उसपर आसानी से काम कर सकते हो और में आपको सुझाव दूंगा के आप कुछ sample articles लिख लो। अगर कोई आपसे sample मांगता है तो आप उसे samples send कर सकते हो साथ ही अगर आप अपना खुद का blog बनाते हो तो वो भी काफी अच्छा होगा।

  • Do On Page SEO:– क्योंकि यहां पर आपको SEO के बारे में भी knowledge मिलेगा आप क्योंकि SeO practice करोगे यहां पर अपने blog पर तो आप जिसके लिए article लिखोगे वो बिल्कुल seo friendly और अच्छा होगा जिससे उसे ज़्यादा orders आएंगे और अगर फिर आप खुद के blog पर content likhoge तो आप वहां से भी revenue generate कर पाओगे और कभी कोई sample मांगेगा तो आप अपना blog का link उसे दे सकते हो इसके अलावा आपको instagram और facebook के साथ साथ  जितने भी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म है वहां पर आपको खुद को content writer लिखना है कि मैं content writer हूँ।जैसे अपने आपको content writer के तौर पर दिखाना है तो वह आपके profile को और optimize करेगा इसके अलावा अपने portfolio में आप अपने testimonials add कर सकते हो और आप ने अगर किसी के लिए article लिखा हुआ है तो आप उस से feedback ले लो, अपने आर्टिकल के बारे में और उस comment को अपने blog पर चिपका सकते हो , या फिर उस का screenshot लेकर आप पोस्ट कर सकते हो अपने social media पर ताकि इससे आपकी authority और बढ़ेगी ।

  • interview famous people :- साथ ही साथ आप क्या कर सकते हो आप उन bloggers को ढूंढो या वेबसाइट को ढूंढो जहां पर contributor की जरूरत होती है वहां पर आर्टिकल लिख सकते इसके अलावा इस networking बहुत ज़रूरी है, आप interviews करो digital marketers के साथ में bloggers के साथ में जहां से आपको काम मिलने के chances ज्यादा मिल जाएंगे आप day 1 को ही किसी को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजो या फिर किसी से बोलो के काम दिलवा दे ऐसा नही होता है।

आप दोस्ती बढ़ाओ, पहचान बढ़ाओ फिर धीरे-धीरे आप उनको बता सकते हो कि मैं content लिखता हूं, अगर आपको लगे कि किसी को content की जरूरत है, या फिर आपको अगर content की जरूरत हो तो मुझे याद कर लेना ।

इस तरीके से networking बढ़ जाएगी तो आपको काम मिलने के chances बढ़ जाएंगे और ऐसे ही काम मिलता है, क्योंकि यह मेरा personal experience है और और वहां पर बहुत सारे लो

content writing jobs कैसे खोजे ?

पोस्ट करते रहते हैं कि भाई आप मुझे कांटेक्ट राइटर की तलाश है मुझे कांटेक्ट राइटर चाहिए क्या कोई अवेलेबल है क्या ज्यादा महंगी वाली नहीं चाहिए सस्ते वाली चाहिए तो आप शुरुआत करने के लिए आप जा सकते हो और गंज जैसे ही आपको पहले दूसरा काम मिल जाएगा और आपका काम लोगों को पसंद आएगा तो रिफरेंस से भी काम मिलना चालू हो जाता है रिफरेंस से भी काम मिलने लगता है ताकि बाद कभी तो इतने आर्डर हो जाएंगे कि आप फुलफिल नहीं कर पाओगे उसके लिए आपको एक एजेंसी खोल नहीं पढ़ सकती है तो आप चाहे तो कांटेक्ट आप इस networking को बढ़ाने के लिए facebook groups को join कर सकते ही साथ ही आप वहां पर अपने आप को content writer बोल सकते हो जिससे के आपको आसानी से jobs मिलने लगेंगी ।

जब आपको अच्छे खासे jobs मिलने लगे तो आप content writing agency खोल सकते हो और जब तक आप अच्छा खासा income ना करने लगो तब तक आप इसको full time लेकर मत जाओ। दोस्त content writng से कितना कमा सकते हैं?  तो दोस्तों शुरुआत होता है 25 पैसे पर word से जाने कि अगर आपने जो आर्टिकल लिखा है कुछ 1000 words का लिखा है तो हजार word के article का जो price हुआ वो ढाई सौ रुपए हुआ , तो आप एक article का 250 से शुरुआत कर सकते हो और जैसे-जैसे आपको experience होगा तो 25 से 30 पैसे कर सकते हो 30 से 40 पैसे फिर 50 पैसे tak भी जा सकते हो।

अगर आपको 25 पैसे per word के हिसाब से आप article लिख रहे हो और daily एक article लिख रहे हो, तो महीने के 30 आर्टिकल तो आराम से आप ₹7000 महीने कमा सकते हो और आप अभी शुरुआत में हो जैसे experience होगा तो आपका 50 पैसे per word तक जाएगा थोड़ा बहुत experience के बाद में तो आप आराम से ₹15000 तक earn कर सकते हो।

दोस्तों ये हवा हवाई बातें नहीं एकदम practical बातें हैं क्योंकि मैंने खुद किया हुआ है  में आजकल ऐसे बहुत सारे लोगो को भी जानता हूँ जो के 4-4 words per article charge करते है और जो लोग काम भी कर रहे हैं ।

तो आप सोचो चार रुपए per word यानी कि 1000 words का ₹4000 इससे भी ज्यादा लोग चार्ज करते हैं। जिस तरह का content होता है इस तरीके से उसका rate होता है तो अगर आपको लग रहा है कि काफी कम पैसे मिल रहे हैं ₹15000 तक मिल रहा है, अगर हम 50 पैसे चार्ज कर रहे हैं और रोज का एक article और रोज का हजार words लिखने में आपका ज्यादा टाइम भी नहीं जाएगा।

चलो मैं मान कर चलता हूं research करने में एक घंटा लग गया, फिर लिखने में आपका दो घंटा लग जो के beginners के लिए बोल रहा हूँ लेकिन जैसे जैसे आपकी स्पीड बढ़ती जाएगी आप 1 घंटे के अंदर ही काफी सही लिख सकते हो ।

हां थोड़ा proof reading में time लग सकता है अगर आपको चीजें पता है लेकिन इस field में आप experience हो जिस फिल्म में आपको knowledge है थोड़ा बहुत खोज में लिखने में आपको ज्यादा टाइम नहीं लगेगा।

Content लिखते हुए इन बातों का ध्यान रखें।

ise bhi padhein :- Facebook se paise kaise kamaye – फेसबुक से पैसे कमाने के आसान तरीके

Beginners के लिए 3 Best content writing job websites?

ये 3 ही ऐसी free lancing websites हैं जहां से आप अच्छा खासा revenue कमा पाओगे। साथ ही साथ आप अपनी मर्ज़ी के भी मालिक होंगे। आपको करना बस इतना है के आपको इनपर अपनी profile को इस तरीके से बनाना है के आप आसानी से लोगो की नज़र में आओ। आपको काम मिलने में थोड़ा समय लग सकता है पर यकीन मानिये एक बार आपकी profile अच्छी हो गयी तो आपके पास काम की भीड़ सी लग जाएगी।

conclusion

अगर आप भी अपने लिए content writing jobs खोज रहे हैं और ये जानना चाहते थे के content writing se paise kaise kamaye उम्मीद करता हूँ आपको ये article पसंद आया होगा। आखिर में मैं आपको कुछ personal tips देना चाहता हूँ।

  1. हमेशा plagiarism free content लिखें , वरना आपका career मुश्किल में पद सकता है।
  2. हमेशा content लिखने से पहले research ज़रूर करें।
  3. हमेशा on time रहें इससे आपको बहुत फायदा होगा।
  4. instant पैसा नहीं कमा सकते इसको हमेशा याद रखे

Passport Kaise banwaye ? online passport apply कैसे करें

passport kaise banwaye

passport kaise banaye बहुत सारे लोगो का ये सवाल रहता है के हुम् online passport के लिए apply kaise kare या फिर passport kaise banwaye, अब आपको passport बनवाने के लिए किसी को भी extra पैसे देने की कोई ज़रूरत नही है। आप खुद ही passport के लिए apply कर सकते हो और साथ ही आप खुद online apply kar sakte हो passport के लिए। 

जब भी हम सोचते है के passport खुद बनाये तो हम उस पासपोर्ट और website के जाल में फास जाते है और फिर हम ये सोचने लगते है के छोड़ो हुम cyber cafe से ही करवा लेंगे जहां आपको 1500 रुपये के बजाय 1800 या 2000 रुपये तक भी देने पड़ सकते है। आज मैं आपको इस post में बताऊंगा के आप खुद passport ke liye apply kaise कर सकते हैं।

इससे पहले हम बात करें passport बनाने के steps की उससे पहले हम ये जान लेते है के passport ke liye kya kya documents chahiye या passport बनवाने के लिए किस document की ज़रूरत पड़ेगी।

passport Banane ke liye document Hindi

जब भी आप passport apply करते है तो आपको ये ध्यान में रखना होगा के आप नीचे दिए हुए सारे documents को अपने साथ रखे, अगर आपके पास नीचे दिए हुए सारे documents नहीं है, तो घबराने की कोई ज़रुरत नहीं है। ज़रूरी नहीं है के आप सारे ही documents रखें बल्कि आपका उनमे से कुछ से भी काम चल जायेगा। जब तक आपके पास valid Birth Proof और address proof है तो। और शायद इन दोनों के बिना आपको passport बनवाने में दिक्कत आ सकती है।

  • Adhaar card
  • Birth certificate
  • Driving license 
  • Voter id
  • High school mark sheet

ये कुछ ऐसे ज़रूरी दस्तावेज़ है जिसकी ज़रूरत आपको passport बनवाते समय लगेगी। अब जब आपने ये सारे documents को एकजुट करलिया है तो अब हम बात करते है के आप passport ke liye apply kaise kare । 

Passport Kaise banwaye – step by step

आप नीचे दिए हुए link के मदद से आप passport registration portal पर पहुँच जाएंगे।

अब आप ऐसे 4 option देख पा रहे होंगे जहां new user login, existing user login, check appointment status, और आखिर में track application status

आपको अब new user login पर click करेंगे जिसके बाद आपको कुछ ऐसे page पर redirect कर दिया जाएगा जहां आपको यूजर details को डाल देना है और form को submit कर देना है। अब जो email आपने डाला होगा वहां आपको एक link मिलेगा जिससे  आप अपनी user panel को activate कर सकते हो। 

passport kaise banwaye step by step

आपको ध्यान रखना होगा के आप जब user panel में login होंगे तभी आप passport के लिए apply कर पाएंगे। 

अब मान लेते है के आपने user registration अच्छे से पूरी कर ली है, तो अब आप passport के लिए apply कर सकते हैं। passport online apply करने के लिए अब आप इसके home पर जा सकते है और वहाँ से existing user login पर click करना है। 

अब आप से user ID और password माँगा जायेगा जो आपने थोड़ी देर पहले registration के वक़्त इस्तेमाल किया होगा। successful login के बाद आप कुछ ऐसे page पर आजायेंगे 

अब आपको सबसे पहले वाले option को click करना है fresh or new registration पर,

जिसके बाद आप कुछ ऐसे page पर पहुंचेंगे जहां आपको fill application form online पर क्लिक करना है। 

Passport Kaise banwaye - step by step

अब आपके सामने एक form खुल जायेगा जहां पर आप अपनी details fill करेंगे। 

अघिक सहायता के लिए आप नीचे वीडियो को पूरा देखिएगा जिससे के आपको पूरी अच्छी तरह से समझ आजायेगा के online passport apply kaise kare .

अब हम थोड़ा detail में जान लेते है के passport kya hota hai ? और आखिर आपको passport की ज़रुरत क्यों पड़ेगी। आप इस post को आखिर तक पढियेगा और जितना ज़्यादा share कर सके करिये।

इसे भी पढ़ें :- facebook से पैसे कैसे कमाए  

Passport kya Hota hai – what is Passport in Hindi

Passport आपकी एक identity होती है, जिससे के व्यक्ति के नाम और उसकी नागरिकता का प्रमाण  होता है।  जब भी आप किसी दुसरे देश की यात्रा करते है तो आपसे passport इसलिए ही माँगा जाता है ताकि व्यक्ति के नागरिकता का प्रमाण मिल सके। 

अगर सरल भाषा में कहा जाए तो ये वो identity होती है जो पूरे विश्व में मानी जाती है। साथ ही passport में आपको कुछ pages भी दिए जाते है, और आप जिस जिस देश में जाते है वहां का stamp आपके passport पर लगता है, यही आपके पासपोर्ट की value होती है। 

इसे भी पढ़ें :- blog क्या होता है ? पूरी जानकारी मराठी में

passport kaise banta hai?

पहले के समय में passport बनाना बहुत ही मुश्किल का काम था जहां आपको बहुत सारे दफ्तरों के चक्कर भी लगाने पड़ते थे पर अब के समय में passport online apply करना बहुत ही आसान हो गया है। अगर आप भी ये सोच रहे हैं के passport kaise banwaye तो मैंने इस पोस्ट के शुरू में ही पूरा process बताया है जिसकी मदद से आप आसानी से passport के लिए apply कर पाएंगे। जी हाँ ये इतना ही आसान है।

Tatkal passport Kaise banwaye?

अगर आप भी तत्काल पासपोर्ट बनवाना चाहते है तो आपको कुछ नहीं करना बस जहां पर आपको passport type पुछा जाए वहां आपको tatkal को select कर लेना है और आगे की सारी formalities को पूरा करके आप tatkal passport के लिए apply कर सकते हो।

passport banane me kitna paisa lagta hai?

बहुत से लोगो के मन में संदेह था के आखिर passport बनवाने में कितने पैसे लगेंगे तो मैं इसका जवाब आपको दे देता हूँ, जो passport office की निर्धारित fees है वो 1500 रुपये है अगर आपसे कोई ज़्यादा पैसे मांगता है तो आप उसपर legal action तक ले सकते हो।

passport kitne din me banta hai?

वैसे तो passport आपके घर 30 दिन में आ जाता है पर कुछ cases में इसे ज़्यादा टाइम भी लग सकता है जिसके लिए आप अपने post office पर जाकर भी चेक कर सकते हो।

आशा करता हूँ के आपको हमारा post Passport Kaise banwaye पसंद आया तो इसे शेयर करना न भूलें और अगर आपको कहीं भी दिक्कत आये तो आप हमें नीचे comment में लिख कर भी बता सकते हो।

“15 ऑगस्ट भाषण मराठी मधे “15 august bhashan in Marathi

15 august bhashan in marathi

नमस्कार , 15 August देशभरात स्वातंत्र्य दिन म्हणून साजरा केला जातो. बरेच लोक एकत्र जमतात आणि स्वातंत्र्यदिनी भाषणही दिले जाते. आज मी तुमच्याशी फार चांगले 15 august bhashan in Marathi शेअर करणार आहे. तुम्ही शाळेत असलेल्या कार्यालयात मराठ्यात हा 15 ऑगस्ट भाषण वापरू शकता.

15 ऑगस्ट भाषण मराठी मधे – 15 august speech in Marathi

यावर्षी भारत आपला 73 स्वातंत्र्य दिन साजरा करेल. 15 ऑगस्ट, स्वातंत्र्यदिनाच्या आपणा सर्वांना हार्दिक शुभेच्छा. आपला जन्म स्वतंत्र देशात झाला आहे आणि म्हणूनच कदाचित एखाद्या परकीय शक्तीद्वारे राज्य केल्या जाणार्‍या अपमानाबद्दल फारच कमी माहिती असेल. परंतु जेव्हा आपण आहोत तेव्हा आपल्याला हे माहित आहे की हे संपूर्ण देशात किती चांगले साजरे केले जाते. कदाचित आपण देखील असेच विचार करत असाल तर कदाचित आपल्यातली देशभक्ती ही आपल्याला विचार करायला लावेल.

15 ऑगस्ट भाषण मराठी मधे - 15 august speech in Marathi
15 ऑगस्ट भाषण मराठी मधे – 15 august bhashan in Marathi

स्वतंत्र देश असल्याची ओळख आपले भाग्य बदलू शकते, ही आपल्या खांद्यावर मोठी जबाबदारी आहे. आपल्याकडे, विशेषत: या कॅम्पसमधील, देशाच्या प्रगतीसाठी आपल्या बलिदानासह एका सामान्य माणसापेक्षा दुप्पट जबाबदारी आहे. कारण असेही आहे की आम्हाला या संस्थेच्या परिणामी देश पुढे जाईल या आशेने अकल्पनीय प्रमाणात पैसे दिले जातात. येथे प्रत्येक विद्यार्थ्यावर खर्च झालेला पैसा गावातील प्राथमिक शाळेसाठी पुरेसा असेल. प्रत्येक सदस्याने खर्च केलेला पैसा लहान माध्यमिक शाळेला मिळकत देण्यासाठी पुरेसा असतो.

तथापि, स्त्रोतांमुळे विचलित झालेल्या एका देशाने सर्वसामान्यांच्या पैशाचा इतका मोठा हिस्सा खर्च केला आहे, केवळ अशी आशा आहे की अशा संस्था या देशाच्या प्रगतीमध्ये योगदान देतील, ज्यामुळे या देशातील लोकांना फायदा होईल. तर देशाच्या समस्येसाठी आपण कुणाचेही बोट उंचावण्याआधी आपण हे विसरू नये की जेव्हा आपण कुणावरही बोट ठेवतो तेव्हा त्याच हाताच्या तीन बोटांनी स्वत: कडे निर्देशित केले. जर आपण स्वत: ला या देशाच्या सेवेसाठी वाहिले नाही तर आपण स्वतंत्र राष्ट्राचे नागरिक म्हणून आपल्या जबाबदा our्या पार पाडत आहोत. यासाठी पावले उचलल्यास आयआयटी रोपार देशाची सेवा करण्यासाठी समर्पित एक मोठी संस्था होऊ शकते.

हे काम कोण करू शकेल? या संस्थेचे विद्यार्थी आणि कर्मचारी यांनीच या संस्थेचे नेतृत्व केले पाहिजे आणि या संस्थेला उत्कृष्ट सेवा देऊन त्यांचे भव्य देण्याचा विचार केला पाहिजे. होय, आपल्या कारकीर्दीत पुढे जाण्यासाठी आपल्या सर्वांचा वैयक्तिक अजेंडा आहे, परंतु आपण देशावरील आपली जबाबदारी विसरल्याशिवाय करतो. जग आज या राष्ट्राकडे पहात आहे. भारताच्या महान कथेची खासियत म्हणजे हे राष्ट्र लोकशाही मार्गावर आहे आणि जगाचा सन्मान मिळतो. विकास साध्य करणे हा नेहमीच अधिक कठीण आणि वेदनादायक मार्ग असतो परंतु आपला विकासाचा अजेंडा आखताना काळजीच्या आवाजाला गप्प बसत नाही असा तो एक अधिक टिकाव मार्ग आहे.

या देशाचे संस्थापक वडील, ज्यांनी अनेक स्वातंत्र्यसैनिकांसह देशासाठी आपले प्राण दिले, हे राष्ट्र स्वतंत्र व समृद्ध असावे अशी त्यांची इच्छा होती. गेल्या सात दशकांत, हे पूर्ण करण्यासाठी भारत जागतिक शक्ती बनण्याच्या दिशेने प्रगती करीत आहे. तथापि या स्पर्धात्मक जगात पुढे जाण्यासाठी एखाद्या देशाला विज्ञान आणि तंत्रज्ञानाची शक्ती आवश्यक आहे जी सर्वोत्तम लोकांमध्ये गणली जाते. आम्ही येथे योगदान देऊ शकतो हे येथे आहे. जरी आपल्यापैकी प्रत्येकाने आपल्या समाजातील एका समस्येवर कार्य करण्याचे ठरविले तरीही आपण राष्ट्र आणि या संस्थेसाठी मोठे योगदान देत आहोत हे आपल्याला दिसेल. चला आपण तसे करण्याचा संकल्प करूया आणि या काउन्टी ऑफ नेशन्स कमिटीच्या प्रीमियर सीटवर जाऊ.

देशाच्या स्वातंत्र्यासाठी लढा देणार्‍या आणि या महान राष्ट्राच्या सेवेसाठी स्वत: ला झोकून देणा those्यांना आज आपण सलाम करूया.

जय हिंद.

15 august bhashan in Marathi – मराठी मध्ये स्वातंत्र्य दिन भाषण

स्वातंत्र्य दिनाचे भाषण – आम्ही स्वातंत्र्यदिन भारताचा राष्ट्रीय सण म्हणून साजरा करतो. 15 ऑगस्ट 1947. 1947 रोजी हा दिवस ब्रिटीश साम्राज्यातून राष्ट्रीय स्वातंत्र्याच्या वर्धापनदिनानिमित्त साजरा केला जातो. शिवाय, भारतीय लोकांसाठी हा अत्यंत शुभ दिवस आहे, कारण ब brave्याच दु: ख आणि शूर भारतीय स्वातंत्र्य सैनिकांच्या बलिदानानंतर भारताला स्वातंत्र्य मिळाले. त्याच दिवसापासून, 15 ऑगस्ट हा भारतीय इतिहासातील आणि प्रत्येक भारतीयांच्या हृदयातील एक महत्वाचा दिवस बनला आहे. तसेच, संपूर्ण देश हा देशभक्ती भावनेने हा दिवस साजरा करतो.

भारताच्या स्वातंत्र्यानंतर पंडित जवाहरलाल नेहरू भारताचे पहिले पंतप्रधान म्हणून निवडले गेले. याव्यतिरिक्त, त्याने राष्ट्रीय राजधानी, नवी दिल्लीतील लाल किल्ल्यावर आमचा तिरंगा फडकावला. तेव्हापासून आम्ही दरवर्षी लाल किल्ल्यात (नवी दिल्ली) तिरंगा फडकवून स्वातंत्र्यदिन साजरा करतो. याव्यतिरिक्त, शालेय विद्यार्थ्यांद्वारे मार्च पास्टच्या कार्यक्रमासह सैन्य अनेक कार्ये करते.

याव्यतिरिक्त, आम्ही स्वातंत्र्य दिन म्हणून साजरा करतो ज्याने आम्हाला स्वातंत्र्य देण्यासाठी स्वतःचे बलिदान दिले आहे. तेच आपल्या देशासाठी लढले. तसेच, 15 ऑगस्ट रोजी आम्ही आपले मतभेद विसरून एक खरा राष्ट्र म्हणून एकत्रित होऊ

स्वातंत्र्यदिन उत्सवाचे महत्त्व

आम्ही आपल्या देशात स्वातंत्र्यदिन मोठ्या प्रमाणात साजरा करतो. तसेच, प्रत्येक शासकीय इमारत तिरंगा दिवे सुशोभित केलेली आहे जी राष्ट्रीय झेंड्यासारख्या केशरी, पांढर्‍या आणि हिरव्या आहेत. याव्यतिरिक्त, ध्वज फडकवण्यासाठी आणि राष्ट्रगीत गाण्यासाठी प्रत्येक अधिकारी आणि कार्यालयीन कर्मचारी, खासगी असो वा सरकारी, एका ठिकाणी हजर रहायला हवे. याखेरीज स्वातंत्र्यदिन साजरा करण्याची इतरही अनेक कारणे आहेत.

आमच्या स्वातंत्र्य सैनिकांच्या स्मृतीचा सन्मान करा

आपल्या देशाला इंग्रजांपासून मुक्त करण्यासाठी स्वातंत्र्यसैनिकांनी लढा दिला. शिवाय, देशासाठी आपले प्राण अर्पण करणारे ते लोक होते. या दिवशी आपल्या देशातील प्रत्येक नागरिक त्याला आदरांजली वाहतो. स्वातंत्र्यदिन साजरा करण्यासाठी आणि स्वातंत्र्यसैनिकांना श्रद्धांजली वाहण्यासाठी शाळा व महाविद्यालयांमध्ये वेगवेगळे कार्यक्रम आयोजित केले जातात. अनेक नाटकांचे आयोजनही केले जाते जेथे शाळेतील विद्यार्थी त्या त्या स्वातंत्र्यसैनिकांना त्यांच्या बलिदानाबद्दल आदरांजली वाहतात.

शाळा आणि महाविद्यालयांमध्ये विद्यार्थी प्रत्येकासमोर देशभक्तीपर गाणीही सादर करतात. हा दिवस सहसा सुट्टी म्हणून साजरा केला जातो, परंतु लोक हा दिवस सर्व एकत्र साजरा करण्यासाठी एकत्र जमतात.

मराठी भाषेतील स्वातंत्र्यदिनी संक्षिप्त भाषण – short speech on independence day in Marathi language

स्वातंत्र्य दिनाचे भाषणः यावर्षी भारत 15 ऑगस्ट रोजी 73 वा स्वातंत्र्य दिन साजरा करेल. दरवर्षी 15 ऑगस्ट हा दिवस देशभरात स्वातंत्र्य दिन म्हणून साजरा केला जातो. 15 ऑगस्ट रोजी ब्रिटीश अधिवेशनातून भारताला स्वातंत्र्य मिळाले. अनेक महापुरुषांच्या बलिदानावरुन गेल्यानंतर आम्हाला स्वातंत्र्य मिळाले. त्याच वेळी गांधीजींनी देशाला इंग्रजांपासून स्वातंत्र्य देण्यात महत्वाची भूमिका बजावली. आता आपला देश स्वतंत्र झाला आहे, १ August ऑगस्ट स्वातंत्र्यदिनी प्रत्येक मोठ्या संस्थेत भाषणे केली जातात. शाळा, महाविद्यालये, कार्यालये इत्यादी ठिकाणी बरेच कार्यक्रम आयोजित केले जातात ज्यात देशभक्तीपर गीते गायली जातात व भाषणेही दिली जातात. अशा परिस्थितीत लोक स्वातंत्र्यदिनी भाषण तयार करण्यासाठीही बराच वेळ घेतात. येथे आम्ही तुम्हाला मराठीत असे १ug ऑगस्ट भाषण सांगत आहोत, जे तुम्ही वापरू शकता.

15 august speech in Marathi
15 august speech in Marathi

प्रिय सहकारी, शिक्षक आणि येथे उपस्थित ज्येष्ठ लोक,
आज संपूर्ण भारत आपला 73 वा स्वातंत्र्य दिन साजरा करीत आहे. ब्रिटीशांनी बरीच वर्षे भारतावर राज्य केले, त्यानंतर 15 ऑगस्ट 1947 रोजी हा देश स्वतंत्र झाला. ब्रिटीशांच्या राजवटीत ब्रिटीशांनी अनेक प्रकारे देशावर अत्याचार केले, त्यानंतर अनेक महापुरुषांच्या बलिदानानंतर देशाला स्वातंत्र्य मिळाले. ब्रिटीशांच्या तावडीतून भारत मुक्त करण्यात अनेक महापुरुषांनी महत्त्वपूर्ण भूमिका बजावली. यापैकी काही नावे महात्मा गांधी, भगतसिंग, चंद्रशेखर आझाद इ.

स्वातंत्र्यदिनी सर्व शाळा, शासकीय कार्यालये इत्यादी ठिकाणी तिरंगा फडकविला जातो. तसेच राष्ट्रगीतही गायले जाते. त्याचबरोबर शाळांमध्ये विद्यार्थ्यांमध्ये लाडू वितरणही केले जाते. स्वातंत्र्य दिनाच्या पूर्वसंध्येला राष्ट्रपतींनी ‘देशाला पत्ता’ दिला. स्वातंत्र्य दिनाच्या पूर्वसंध्येला राजधानी आणि सर्व शासकीय इमारती रंगीबेरंगी दिव्यांनी सजवल्या आहेत.

स्वातंत्र्य दिनाच्या निमित्ताने देशाचे पंतप्रधान लाल किल्ल्याच्या तटबंदीवरून राष्ट्रीय राजधानीत राष्ट्रीय ध्वजारोहण करतात. ते देशातील लोकांना उद्देशून भाषण देतात. यावेळी, बरेच लोक त्याचे भाषण ऐकण्यासाठी आणि इतर कार्यक्रम पाहण्यासाठी उपस्थित असतात. देश स्वतंत्र झाल्यास अनेक दशके झाली आहेत आणि या काळात देशाने अनेक प्रकारच्या यश संपादन केले आहेत. देशाच्या शास्त्रज्ञांनी अलीकडेच चंद्रयान 2 ची यशस्वी चाचणी घेऊन देशाचे मूल्य संपूर्ण जगाकडे वाढविले.

चंद्रयान 2 चंद्राच्या दक्षिण ध्रुवाकडे पाठविला जातो. त्याच वेळी, 11 मे 1998 रोजी भारताने प्रथम चाचणी घेतली. त्यावेळी भारत सरकारने घोषणा केली होती की भारताचा अण्वस्त्र कार्यक्रम शांततापूर्ण उद्देशाने आहे आणि ही ऊर्जा भारत उर्जेच्या क्षेत्रात स्वावलंबी होण्यासाठी ही चाचणी घेण्यात आली आहे. अशाप्रकारे, देशाने विज्ञान क्षेत्रात एक मोठी कामगिरी केली.

देशाच्या स्वातंत्र्यापासून भारतानेही क्रीडा क्षेत्रात मोठे कामगिरी केली आहे. १ Dev Kap3 मध्ये कपिल देव यांच्या नेतृत्वात भारताने क्रिकेट वनडे जिंकला. यानंतर भारताने २०११ मध्ये दुसरा विश्वचषक जिंकला. त्याचबरोबर ऑलिम्पिकमधील हॉकीमध्येही भारताने अनेक सुवर्णपदके जिंकली. याखेरीज हिमा दास यांनी सलग अनेक सुवर्णपदके जिंकून देशाचे डोके अभिमानाने वाढवले ​​आहे. आता, देश 73 73 वा स्वातंत्र्य दिन साजरा करत असल्याने, प्रत्येक भारतीय नागरिकाने ठरवले पाहिजे की भविष्यात त्याने अशी कामे करावी ज्यामुळे देशाचे मूल्य वाढेल.

रक्षाबंधन मराठीत माहिती – Raksha Bandhan information in marathi

15 august bhashan in Marathi (600 शब्द) – 15 august in Marathi language

माझ्या सर्व आदरणीय शिक्षकांना, पालकांना आणि प्रिय मित्रांना शुभेच्छा. हा महान राष्ट्रीय कार्यक्रम साजरा करण्यासाठी आज आम्ही येथे जमलो आहोत. आपल्या सर्वांना माहितच आहे की स्वातंत्र्य दिन हा आपल्या सर्वांसाठी एक शुभ अवसर आहे. भारताचा स्वातंत्र्य दिन हा सर्व भारतीय नागरिकांसाठी सर्वात महत्वाचा दिवस आहे आणि इतिहासात कायमचा उल्लेख केला जातो. हा दिवस आहे जेव्हा भारताच्या महान स्वातंत्र्यसैनिकांनी बर्‍याच वर्षांच्या संघर्षानंतर ब्रिटीशांच्या राजवटीतून आपल्याला स्वातंत्र्य मिळवून दिले.

आम्ही भारताच्या स्वातंत्र्याच्या पहिल्या दिवसाची आठवण ठेवण्याबरोबरच स्वातंत्र्यदिन साजरा करतो, तसेच भारताला स्वातंत्र्य मिळवून देणा their्या बलिदान देणा leaders्या महान नेत्यांचे सर्व बलिदान.

15 ऑगस्ट रोजी ब्रिटीशांच्या राजवटीतून भारताला स्वातंत्र्य मिळाले. स्वातंत्र्यानंतर आम्हाला आपले सर्व मूलभूत अधिकार आपल्या देशात, मातृभूमीत मिळाले. आपण सर्वांनी भारतीय असल्याचा अभिमान वाटला पाहिजे आणि स्वतंत्र भारताच्या भूमीवर जन्मलेल्या आपल्या नशिबाचे कौतुक केले पाहिजे. गुलाम भारताचा इतिहास आपल्या पूर्वजांनी आणि पूर्वजांनी कठोर परिश्रम कसे केले आणि ब्रिटिशांच्या सर्व क्रूर वागण्याचा सामना केला याबद्दल सर्व काही सांगते.

आपण इथे बसून कल्पना करू शकत नाही की ब्रिटीशांच्या राजवटीपासून भारतासाठी किती स्वातंत्र्य होते. त्यात १ freedom 1857 ते १ 1947 fighters from या काळात अनेक स्वातंत्र्यसैनिक आणि अनेक दशकांच्या संघर्षाचा बळी दिला गेला. ब्रिटीश सैन्यात असलेल्या एका भारतीय सैनिकाने (मंगल पांडे) प्रथमच भारताच्या स्वातंत्र्यासाठी इंग्रजांविरूद्ध आवाज उठविला होता.

नंतर अनेक महान स्वातंत्र्यसैनिकांनी केवळ स्वातंत्र्य मिळविण्यासाठी संघर्ष केला आणि त्यांचे संपूर्ण जीवन समर्पित केले. आपल्या देशासाठी लढा देण्यासाठी लहान वयातच प्राण गमावलेल्या भगतसिंग, खुदी राम बोस आणि चंद्रशेखर आझाद यांचे बलिदान आपण कधीही विसरू शकत नाही. नेताजी आणि गांधीजींच्या सर्व संघर्षांकडे आपण कसे दुर्लक्ष करू? गांधीजी भारतीयांना अहिंसेचा उत्तम धडा शिकवणारे एक महान भारतीय व्यक्तिमत्त्व होते.

अहिंसेच्या मदतीने त्याने स्वातंत्र्य मिळविण्याकरिता भारताचे नेतृत्व केले. अखेरीस, १ struggle ऑगस्ट १ India on 1947 रोजी भारताला स्वातंत्र्य मिळाल्यावर दीर्घ संघर्षाचा परिणाम समोर आला.

आम्ही इतके भाग्यवान आहोत की आपल्या पूर्वजांनी आपल्याला शांतता आणि आनंदाची जमीन दिली आहे जिथे आम्ही कोणत्याही भीतीशिवाय संपूर्ण रात्र झोपू शकतो आणि आपल्या शाळेत किंवा घरात संपूर्ण दिवस आनंद घेऊ शकतो. आपला देश तंत्रज्ञान, शिक्षण, क्रीडा, वित्त आणि इतर विविध क्षेत्रात बरीच वेगवान विकसित करीत आहे जो स्वातंत्र्यापूर्वी जवळजवळ अशक्य होता. भारत अणुऊर्जा असलेल्या देशांपैकी एक आहे. आम्ही ऑलिंपिक, राष्ट्रकुल खेळ आणि आशियाई खेळ यासारख्या खेळांमध्ये सक्रिय सहभाग घेऊन पुढे जात आहोत.

आम्हाला आपले सरकार निवडण्याचा आणि जगातील सर्वात मोठ्या लोकशाहीचा आनंद घेण्याचा सर्व हक्क आहे. होय, आम्ही स्वतंत्र आहोत आणि पूर्ण स्वातंत्र्य आहे, तथापि आपण आपल्यास देशाबद्दलच्या जबाबदार्‍यापासून मुक्त मानू नये. देशाचे जबाबदार नागरिक म्हणून आपण आपल्या देशात कोणतीही आपत्कालीन परिस्थिती हाताळण्यास सदैव तयार असले पाहिजे.

ओला भारत….

15 august speech in marathi for child – मुलासाठी मराठीत 15 ऑगस्ट भाषण


इथे जमलेल्या आदरणीय शिक्षकांना आणि माझ्या प्रिय मित्रांना हार्दिक शुभेच्छा. १ we ऑगस्ट रोजी स्वातंत्र्य दिनाच्या या शुभ प्रसंगी साजरा करण्यासाठी आज आपण येथे जमलो आहोत. आम्ही हा दिवस दरवर्षी मोठ्या उत्साहात आणि आनंदाने साजरा करतो कारण 1947 मध्ये ब्रिटीशांच्या राजवटीपासून आपल्या देशाला या दिवशी स्वातंत्र्य मिळाले. आम्ही येथे स्वातंत्र्य दिनाच्या नवव्या क्रमांकाचा उत्सव साजरा करण्यासाठी आलो आहोत. हा दिवस सर्व भारतीयांसाठी एक उत्तम आणि महत्वाचा दिवस आहे.

भारतातील लोकांनी बर्‍याच वर्षांपासून इंग्रजांशी बर्बरपणे वागवले. आपल्या पूर्वजांच्या अनेक वर्षांच्या संघर्षामुळे आज आम्हाला शिक्षण, खेळ, वाहतूक, व्यवसाय इत्यादी जवळजवळ सर्वच क्षेत्रात स्वातंत्र्य आहे. १ 1947. 1947 पूर्वी, लोक इतके स्वतंत्र नव्हते, अगदी त्यांच्या शरीरावर आणि मनावर अधिकार ठेवणेदेखील त्यांना मर्यादित नव्हते. ते इंग्रजांचे गुलाम होते आणि त्यांच्या सर्व आज्ञा पाळण्यास भाग पाडले गेले.

ब्रिटिश राजवटीविरूद्ध स्वातंत्र्य मिळविण्यासाठी अनेक वर्षे संघर्ष करणा great्या महान नेत्यांमुळे आज आपण काहीही करण्यास मोकळे आहोत.
स्वातंत्र्य दिन संपूर्ण भारतभर मोठ्या आनंदाने साजरा केला जातो. हा दिवस सर्व भारतीय नागरिकांना खूप महत्त्व देत आहे कारण आम्हाला एक सुंदर आणि शांततापूर्ण जीवन देण्यासाठी आपल्या बलिदान देणा all्या सर्व स्वातंत्र्य सैनिकांची आठवण ठेवण्याची संधी मिळते.

स्वातंत्र्य मिळण्यापूर्वी लोकांना शिक्षण घेण्यास, निरोगी अन्न खाण्याची आणि आपल्यासारखे सामान्य जीवन जगण्याची परवानगी लोकांना नव्हती. भारतातील स्वातंत्र्यासाठी जबाबदार असलेल्या घटनांसाठी आपण कृतज्ञ असले पाहिजे. ब्रिटिशांनी त्यांच्या निरर्थक ऑर्डरची पूर्तता करण्यासाठी गुलामांपेक्षा भारतीयांशी अधिक वाईट वागणूक दिली.

भारतातील काही महान स्वातंत्र्यसेनानी म्हणजे नेताजी सुभाषचंद्र बोस, जवाहर लाल नेहरू, महात्मा गांधीजी, बाळ गंगाधर टिळक, लाला लाजपत रे, भगतसिंग, खुदी राम बोस आणि चंद्र शेखर आझाद. आयुष्याच्या शेवटापर्यंत भारताच्या स्वातंत्र्यासाठी धडपड करणारे ते एक प्रसिद्ध देशभक्त होते. आपल्या पूर्वजांनी ज्या भयानक क्षणांचा सामना केला त्याविषयी आम्ही कल्पना करू शकत नाही. स्वातंत्र्याच्या बर्‍याच वर्षांनंतर आपला देश आता उधळपट्टीवर आहे

रक्षाबंधन मराठीत माहिती – Raksha Bandhan information in marathi

[et_pb_section admin_label=”section”] [et_pb_row admin_label=”row”] [et_pb_column type=”4_4″][et_pb_text admin_label=”Text”]

रक्षाबंधन मराठी महिती – raksha Bandhan information in marathi एक भाऊ आणि बहीण यांच्यातील प्रेम अद्वितीय आहे आणि कदाचित इतके शब्दात वर्णन केले जाऊ शकत नाही. भावंडांमधील नाते खूप विलक्षण आहे आणि या नात्याचा जगभर आदर केला जातो. पण जेव्हा भारतात येतो तेव्हा हे नाते थोडे मोठे होते, येथे भावंडांचे नाते साजरे करण्यासाठी, रक्षाबंधन नावाचा सण आहे. हे भाऊ तसेच बहीण आणि नेपाळसारख्या देशांमध्ये प्रेमाचे प्रतीक म्हणून साजरे केले जाते. हिंदी दिनदर्शिकेनुसार रक्षाबंधन हा सण श्रावण महिन्यात पौर्णिमेच्या दिवशी साजरा केला जातो, जो सामान्यत: ऑगस्ट महिन्यात आकर्षक कॅलेंडरमध्ये येतो.

रक्षाबंधन 2020 कधी आहे ?

यावर्षी रक्षाबंधन 3 ऑगस्ट रोजी साजरा केला जाईल

रक्षाबंधन हा भारतातील सर्वात महत्वाचा सण आहे कारण हा सण फक्त भाऊ-बहिणीच साजरा करतात.

raksha Bandhan information in marathi
Raksha Bandhan information in marathi

रक्षाबंधनाच्या शुभ मुहूर्तावर बहिणींनी आपल्या भावाच्या मनगटावर राखी बांधली. हे त्याच्या भावांवरील प्रेमाचे मॉडेल मानले जाते. तसेच, भाऊ देखील आपल्या बहिणीचे आयुष्यभर संरक्षण करण्याचे वचन देतो. राखीचा सण देखील असे दर्शवितो की बहिणी आपल्या दीर्घायुष्यासाठी आणि आपल्या भावांच्या कल्याणासाठी प्रार्थना करतात. त्या बदल्यात, बांधव नेहमीच स्वतःची काळजी घेतील आणि सर्व बहिणींपासून आणि धोकेपासून त्यांच्या बहिणींचे रक्षण करण्याचे शपथ घेतात. तसेच, भेटवस्तू म्हणून, भाऊ त्यांच्या बहिणींना पैसे किंवा इतर भेटवस्तू देतात.

नोबेल पुरस्कार विजेते रवींद्र नाथ टागोर यांनी राखी धरणाचा हा सण दुसर्‍या देशवासियांच्या मनगटावर साजरा केला. आणि हे त्याने केले कारण त्याला देशभर चाराच्या भावना प्रोत्साहित करायच्या आहेत. आज संपूर्ण देश त्यास मोठ्या आनंद आणि आनंदाने मानतो.

मीसुद्धा आजच्या दिवसाची प्रतीक्षा करीत आहे. या सणाच्या दिवशी मी राज्यात लवकर उठतो आणि पूजेसाठी सुंदर कपडे घालतो. माझ्या दोन लहान बहिणी आहेत, ज्या माझ्या मनगटावर सुंदर राखी बांधतात. आपण सर्वजण या रक्षाबंधन उत्सवाची आतुरतेने वाट पाहत आहोत.

या महोत्सवाची थीम म्हणजे भाऊ आणि त्याची बहीण यांच्यात असलेले प्रेम हेच ठेवणे. रक्षाबंधन हा एक उत्सव आहे जो प्रामुख्याने भारताच्या उत्तर आणि पश्चिम भागात साजरा केला जातो, परंतु इतरत्र देखील हा आनंद हा उत्सव साजरा करतात. प्रत्येक ठिकाणी हा उत्सव वेगवेगळ्या नावांनी ओळखला जातो, परंतु शेवटी उद्देश एकच असतो.

आता जर आपण परंपरेबद्दल बोललो तर बहिणी दीया, रोली, चावल आणि राखीसह “पूजा थाळी” तयार करतात. त्यानंतर ती देवीची पूजा करते, त्यानंतर तिच्या भावाच्या मनगटांवर राखी बांधते आणि तिला शुभेच्छा देतात.

दुसरीकडे, बंधू त्यांच्या बहिणींकडेच राहतील आणि त्यांचे आयुष्यभर त्यांचे रक्षण करतील असे वचन देऊन ते त्यांचे प्रेम स्वीकारतात. मग भाऊ आपल्या बहिणींना पैसे किंवा काहीतरी गिफ्ट करते.

इसे भी पढ़ें :- फेसबुक से पैसे कमाने के ५ आसान तरीके

Importance of Raksha Bandhan in Marathi

प्राचीन काळापासून हा सण त्याच रीतीने आणि परंपरेने साजरा केला जात आहे. काळानुसार लोकांची जीवनशैली बदलत असताना, आज हा सण मोठ्या प्रमाणात साजरा केला जात आहे.

पालकांसाठी रक्षाबंधन सण कुटुंबात परत येण्याचे एक साधन आहे. या दिवशी स्वादिष्ट पदार्थ, बारीक मिठाई बनवतात. कुटुंबातील सदस्य इतर हितचिंतक आणि नातेवाईकांसह भेटवस्तूंची देवाणघेवाण करतात. मग त्यांचे जीवनाचे वैयक्तिक अनुभव एकमेकांशी सामायिक करा.

उदाहरणार्थ, जर कुणी आपल्या कुटूंबापर्यंत पोहोचू शकत नसेल तर तो ई राखीद्वारे किंवा इतर संप्रेषणाद्वारे राखी पाठवते. हे या महोत्सवाचे वैशिष्ट्य आहे.
इतर सर्व भारतीय सणांप्रमाणेच रक्षाबंधन हा खरा आत्मा आणि लोकांसह साजरा करण्याचा सण आहे.

हे सर्व रक्षाबंधन बद्दल आहे …

रक्षाबंधन, बहनिक्य भावच प्रेमाचा सना – History Of Raksha Bandhan in Marathi

आजच्या आणि पौराणिक उत्सवांमध्ये खूप फरक आहे. बहुतेक सणांची मुळे हिंदू धर्मात सापडतात.

आपण होळी का साजरी केली जाते किंवा दिवाळी का साजरी केली जाते किंवा दिवाळीचे काय महत्त्व आहे याबद्दल आपण ऐकत असतो परंतु रक्षाबंधन का साजरे केले जाते याबद्दल कोणालाही माहिती नसेल. हे सर्वांना ठाऊक आहे की रक्षाबंधन हा भाऊ-बहिणींचा सण आहे जेव्हा ते एकमेकांना चांगल्या आयुष्याची इच्छा करतात आणि बहिण आपल्या भावाला राखी बांधते.
रक्षाबंधनाचा इतिहास

रक्षाबंधनचा उल्लेख आपल्या महाकाव्यांमध्ये देवतांचा सण म्हणून केला जातो. असे म्हटले जाते की यमची बहीण इंद्राणीने प्रत्येक श्रावण पौर्णिमेवर राखी बांधली आणि मृत्यूच्या प्रभूकडे गेले. इंद्राणीने तिचा भाऊ भगवान इंद्रालाही राखी बांधली. यम या प्रसंगी इतका प्रभावित झाला की त्याने जाहीर केले की ज्या कोणी आपल्या बहिणीला राखी बांधली ती अजरामर होईल. आणि त्याच दिवसापासून मुलींनी आपल्या भावांना राखी बांधली आणि त्यांना दीर्घायुषी शुभेच्छा दिल्या आणि भाऊंनी आयुष्यभर बहिणींची काळजी घेण्याचे वचन देऊन आशीर्वाद देण्यास सुरवात केली.

मुली राखी बांधताना जप करतात
“दा याना बधो बले रजजो दानवेंद्रो महाबालाह
तेन त्वं शुभमनामी रक्शे मा च माला च “

याचा अर्थ “मी एक बलाढ्य राक्षसी राजा बाली यांच्याप्रमाणे तुझ्यावर राखी बांधत आहे. खंबीर उभे राहा, राखी, अडखळत जाऊ नका.”

पौराणिक कथा अशी आहे की राजा बळी हा शक्तिशाली राक्षस राजा विष्णूचा भक्त होता. भगवान इंद्र जेव्हा बालीशी स्पर्धा करू शकला नाही तेव्हा ते भगवान विष्णूकडे मदतीसाठी गेले. विष्णूंनी नाथ जगात बालीची सत्ता उलथून टाकली. तेथे भगवान विष्णूने राजा बालीला वचन दिले की त्यांचा इंद्र म्हणून मुकुट होईल आणि तो वैकुंठ येथेच राहील

हेडिसच्या राज्याचे रक्षण करेल, त्याचे निवासस्थान सोडले जाईल.

भगवान विष्णूची पत्नी लक्ष्मी यांनी भगवानांना वैकुंठाकडे परत जाण्याची शुभेच्छा दिल्या. ब्राह्मण महिला म्हणून वेषात, ती बळीच्या आश्रयाला गेली तिची पती काही महत्त्वपूर्ण कामे पूर्ण करून घरी परत येईपर्यंत. राजा बाली बंधनकारक. सुख आणि संपत्ती त्याच्याबरोबर आली. सर्व शुभ कार्य केले जातात.

श्रावण पौर्णिमेला देवीने बालीला पवित्र धागा बांधला आणि तिची शुभेच्छा दिल्या. बळीला इशारा करून स्पर्श केला होता. तो तिला आपली बहीण म्हणून स्वीकारतो आणि तिला इच्छा करण्याची विनंती करतो.

त्या दिवसापासून मुली आपल्या भावांना राखी बांधतात आणि आशीर्वाद मागतात.

आज आपण पौराणिक कथांसह अशा अनेक ऐतिहासिक घटनांशी देखील जोडले गेले आहोत. शाळेत इतिहासाचा अभ्यास करत असताना आपल्याला अशा बर्‍याच कथांचा सामना करावा लागतो ज्या या उत्सवाच्या उत्सवाची पुष्टी करतात.

सर्वात जुनी घटना अलेक्झांडरच्या स्वारीशी संबंधित आहे, असे म्हणतात की पुरू हा एक सामर्थ्यवान राजा होता. अलेक्झांडरने त्याच्याकडून मोठ्या युद्धाला तोंड दिले. आपल्या पतीच्या सुरक्षिततेबद्दल चिंतित अलेक्झांडरच्या पत्नीने राजा पुरुला पाठवले आणि नंतर त्याने तिला आपली बहीण म्हणून स्वीकारण्याची विनंती केली. पुरूने तिला स्वीकारले आणि अलेक्झांडरला नुकसान न करण्याचे वचन दिले. पुरुच्या हाताच्या राखीला अलेक्झांडरचा रक्षक म्हणतात.

चित्तोडची राणी राणी कर्णावती हिने हुमायूना राखी पाठवावी व तिला मदत करावी अशी विनंती केली अशी एक प्रसिद्ध घटना उघडकीस आली आहे. हुमायूने ​​त्वरित ही विनंती मान्य केली व आपल्या सैन्यासह तेथे पोहोचले. पण तिला स्त्रियांनी विष पाजण्यास उशीर केला होता.

हे सर्व दर्शविते की राखी हा नेहमीच बहिण-बहिणींचा सण नसतो. हे सुरक्षेची मूलभूत गरज भागवण्यासाठी होते. चांगली इच्छाशक्ती आणि संरक्षणासाठी ही दुर्भावनायुक्त प्रार्थना होती. असे म्हटले जाते की एका वेळी theषींनी स्वतःला आणि त्यांच्या अनुयायांच्या सुरक्षेसाठी पवित्र धागा बांधला.

रवींद्रनाथ टागोर यांनी राखी उत्सव सुरू केला, जो समाजातील सौहार्दपूर्ण संबंध दर्शवितो. शांततेत टिकून राहण्याचा आणि समाजातील सर्व सदस्यांच्या बांधिलकीचा संकल्प होता. ही रक्षाबंधनाची सार्वत्रिक दृष्टी होती.

आजच्या परिस्थितीत राखीचा बंधूत्व हा सण म्हणून साजरा केला जात असला तरी खर्‍या अर्थाने पाहिले तर त्याचा व्यापक दृष्टीकोन आहे. रक्षाबंधन सण शांती आणि बंधुताची खरी भावना दर्शवितो. या उत्सवाच्या मूलभूत भूत तत्वांचे पालन केल्यास संपूर्ण देशात हिंसाचार संपेल.

मराठी रक्षण बंधन चा अर्थ – meaning of Raksha Bandhan in Marathi

रक्षाबंधन किंवा राखीचा सण “रक्षा” आणि “बंधन” या दोन शब्दांनी बनलेला आहे. संस्कृत शब्दावलीनुसार, याचा अर्थ “रक्षा ऑफ बॅण्ड” आहे जेथे “रक्षा” म्हणजे संरक्षण आणि “बंधन” त्या बंधनकारक कृत्यास समर्पित आहे. हा सण भाऊ-बहिणीच्या नातेसंबंध आणि प्रेमाचे प्रतीक आहे, ज्याचा अर्थ फक्त रक्त आहे. के रिश्टोशी संबंधित नाही. हे चुलत भाऊ, बहीण आणि मेहुणे (मेव्हणी), मेव्हणे (मेटी) आणि पुतणे (पुतणे) आणि अशा इतर संबंधांमध्ये देखील साजरा केला जातो.

भारतातील विविध धर्मांदरम्यान रक्षाबंधन महत्त्वाचे आहे. तसेच हा अनेक धर्मांद्वारे साजरा केला जातो.
हिंदू धर्म- हा सण प्रामुख्याने भारताच्या उत्तर आणि पश्चिम भागांमध्ये तसेच नेपाळ, पाकिस्तान आणि मॉरिशस सारख्या देशांमध्ये साजरा केला जातो.
जैन धर्म- जैन समाजही या निमित्ताने पूजनीय आहे, जैन पुजारी भक्तांना औपचारिक सूत्र देतात.
शीख धर्म- बंधूप्रेमासाठी समर्पित हा सण शिखांनी “राखेडी” किंवा राधार म्हणून साजरा केला आहे.

उत्सव साजरा करण्याचे कारण – aksha bandhan मानाने का कारण

रक्षाबंधन हा सण भाऊ-बहिणींमध्ये कर्तव्याचे प्रतीक म्हणून साजरा केला जातो. या प्रसंगी पुरुष आणि स्त्रिया यांच्यात कोणत्याही प्रकारचे भावनिक संबंध ज्यांचे जैविकदृष्ट्या संबंधीत नाते असू शकत नाही त्यांच्या स्मरणार्थ आहे.

या दिवशी, एक बहिण आपल्या भावाच्या मनगटावर राखी बांधते आणि त्याच्या भरभराटीसाठी, आरोग्यासाठी आणि आरोग्यासाठी प्रार्थना करा. त्या बदल्यात भाऊ आपल्या बहिणीचे नुकसान होऊ नये म्हणून व प्रत्येक परिस्थितीत भेटवस्तू देण्याचे वचन देतो. हा सण दूर कुटुंबातील सदस्य, नातेवाईक किंवा चुलत भाऊ अथवा बहीण यांच्यातही साजरा केला जातो.

आशा कर्ता मी तुम्हाला आमची पोस्ट रक्षाबंधन मराठीत माहिती – Raksha Bandhan information in marathi नक्कीच आवडली असेल. हे शक्य तितके सामायिक करा. तसेच व्हॉट्स अॅप व फेसबुकवर शेअर करायला विसरू नका. आपल्याकडे काही प्रश्न असल्यास किंवा काही सूचना असल्यास टिप्पण्यांमध्ये सांगा.

Raksha Bandhan information in marathi
[/et_pb_text][/et_pb_column] [/et_pb_row] [/et_pb_section]

Facebook se paise kaise kamaye – फेसबुक से पैसे कमाने के आसान तरीके

facebook se paise kaise kamaye

facebook se paise kaise kamaye :- online पैसे कमाने के बारे में बात की जाए तो facebook से अच्छा और जल्दी काम करने वाला तरीका शायद ही किसी के पास हो। जब भी फेसबुक का नाम हमारे दिमाग में आता है, तो हम उसे एक timepass की तरह ही लेते है, जहां जाकर हम कुछ memes देख लेते है और कुछ पसंद आजाये तो उसे सांझा भी कर देते है। हम मेसे ऐसे बहुतही काम लोग होते है जिन्हें facebook की असली ताकत का पता है और आज वो फकरबूक से ही लाखो रुपये भी कमा रहे है।

अगर आप भी यही खोजते हुए यह तक पहुचे है, की फेसबुक से पैसे कैसे कमाए जाते है, तो आप बिल्कुल सही जगह आये है। आज में आपके साथ वो secret शेयर करूंगा जिसकी मदद से आप भी facebook के ज़रिये अछि खासी earning कर पाएंगे। आज के समय पर facebook पर ही सबसे ज़्यादा ऑडियंस है पर क्या होगा के अगर हम उस audiance को ही टारगेट करें। ये तो जायज़ सी बात है के आपका profit कई गुना बढ़ जायेगा। पर आगे बढ़ने से पहले आपको ये जानना भी ज़रूरी है के facebook se paise kamana कोई आसान चीज़ नहीं होगी। पैसे कमाने के लिए मेहनत ही सबसे ज़रूरी चीज़ होती है।

तो अगर आप ये सोच रहे है के ,” भई हमारे पास न तो laptop है न ही computer”, आपको facebook se paise kamane ke लिए सिर्फ एक smartphone की ज़रुरत पड़ेगी जिसमे के internet connection होना चाहिए। आज में इस post के माध्यम से आपके साथ aisa secret शेयर करने वाला हूँ जिसमे बारे में शायद ही आपको पता भी था।

Facebook क्या है? (what is Facebook in Hindi )

facebook kya hai ? facebook se paise kaise kamaye

आज के समय में सबसे ज़्यादा users के साथ साथ ही facebook दुनिया का सबसे बड़ा Social Media platform है। आप फेसबुक की मदद से अपने आस पास वालो के साथ ही दूसरी देशो के लोगो से भी जुड़ सकते है। Facebook मूल रूप से कॉलेज के छात्रों के लिए बनाया गया था, एक college जाने वाला लड़का mark zukersberg ही वो व्यक्ति था जिसने 2004 में Facebook जैसे social media का तोहफा पूरी दुनिया को दिया।

Facebook ने दोस्तों और आसपास के लोगो से जुड़ना अब बहुत ही आसान बना दिया था। जहां आप कुछ भी सांझा कर सकते है। जैसे जैसे समय और साल बीतते गए वैसे वैसे ही facebook और अच्छा होता गया, और शायद यही कारण है के आज दुनिया के 1 billion से भी ज़्यादा लोग Facebook से जुड़ चुके है, साथ ही संख्या बढ़ती ही जा रही है। 2006 तक, एक चालु email ID के साथ 13 वर्ष से अधिक आयु का कोई भी व्यक्ति Facebbok से जुड़ सकता है।

facebook जब बनाया जा रहा था तो उसे सिर्फ एक college को ध्यान में रखते हुए बनाया जा रहा था, मतलब के college के बच्चे आपस में चीज़ो को शेयर कर सकते थे। पर ऐसा शायद Facebook के निर्माता को भी नहीं पता रहा होगा के उनका बनाया दुनिया का सबसे बड़ा Social media बन जायेगा।

जब भी facebook से पैसे कमाने की बात आती है तो भारत की आधी से भी ज़्यादा जनता इसे Fake या fraud समझती है। पर हाँ facebook से पैसे कमाना possible है और लोग facebook से ही laakho रुपये कमा रहे है। पर ये आसान बिलकुल नहीं होता, अब जब हमने facebook के बारे में थोड़ी बात कर ली है तो अब जानते है के ऐसे कौनसे तरीके से है जिससे facebook से पैसे कमाए जा सकते है।

इसे भी पढ़ें :- Digital marketing में career कैसे बनाये ?

facebook कैसे काम करता है ? और कैसे पैसे कमाता है ?

हम facebook से पैसे कमाना चाहते है, तो उससे पहले ये जानना बहुत ज़रूरी है की हमें पता हो के आखिर ये company जहाँ से हम पैसे कमाएंगे वो company काम कैसे करती है, साथ ही अगर वो हमारे लिए free to join है तो भाई ये पैसे कैसे कमाती है ? हाँ आप में से बहुत से लोगो को ये सवाल होगा। Facebook Ads जिसके अंदर Facebook ads और messenger Ads आते है, Facebook का main source of income यही है।

साथ ही साथ revenue Increase करने के लिए Paise को invest करना बहुत ही अच्छा होता है, Facebook ने ऐसे ही बहुत सारी latest technology के research और production में Invest किया हुआ है जहाँ से काफी अच्छा Profit भी बन ही जाता होगा। अब अगर आप सोच रहे है के कोनसी latest technology ? Facebook ने बहुत से पैसे [Artificial Intelligence ] में invest किये हुए है।

फेसबुक से पैसे कमाने के लिए क्याक्या चाहिए

अगर आप ये सोचते है के मेरे पास तो लैपटॉप या कंप्यूटर नहीं है तो मै फेसबुक से पैसे हुई कमा सकता, तो आप गलत सोच रहे है।  नीचे मैंने ऐसे चीज़ो का list बताया है जिसके मदद से आप facebook से पैसे कमा सकते है।

  • Smartphone
  • अच्छा इंटरनेट कनेक्शन
  • फेसबुक पर अकाउंट 
  • आपकी रुचि (Niche) के अनुसार कोई फेसबुक पेज या ग्रुप।

इसे भी पढ़ें :- Social media marketing कैसे करते है ? Social media से पैसे कैसे कमाए 

Facebook se paise Kaise kamaye? (how to earn money from Facebook in Hindi )

facebook se paise kaise kamaye
facebook se paise kaise kamaye आसान तरीके

आज duniya की सबसे बड़ा social Media platform है जहां दुनिया के हर कोने से लोग जुड़े हुए है और वो आपस में भी बात और chatting कर सकते है। जब facebook बनाया गया था तो इसे पैसे कमाने के नज़रिये से नहीं बनाया गया था। शायद उस समय ये नहीं पता था के ये इतना popular हो जायेगा। पर जैसे जैसे लोग इससे जुड़ते गए वैसे ही facebook के साथ साथ लोग भी काफी अच्छे पैसे कमाने लगे।

facebook से पैसे कमाने का शायद ही कोई shortcut हो पर जो भी इस कला में माहिर हो जाता है फिर वो अपना future इस छेत्र में काफी अच्छा देखता है। पर बिना मेहनत की मिली हुई चीज़ो की लोगो को कदर नहीं होती सायद इसलिए ही, Facebook से पैसे कामना शायद मुश्किल है। काफी बार निराशा हाट लगती है , मैं आपको सच बोलू तो इतना भी आसान नहीं होता जितना इसे दिखाया जाता है youtube या अन्य जगहों पर। Facebook से पैसे कानमे के तरीको को लेकर बहुत सी अफवाहे है जो की बिलकुल ही गलत है।

अगर आप मेरे बताये हुए तरीके से काम करते है तो मैं आपको 99 % success की guarantee दे सकता हूँ, वो 1 % इसलिए छोड़ा है के आपके काम करने की इच्छा पर भी चीज़े depend करती है। तो चलिए अब उन तरीको पर step by step ध्यान से पढ़िए क्योंकि ये शायद आपको facebook पर success दिला सकती है।

Create a facebook profile/ facebook page

भई फेसबुक से पैसे कमाने है तो facebook का account सबसे पहला और सबसे important स्टेप है। अगर facebook account ही नहीं होगा तो पैसे कैसे कमाओगे, इस लिए फटाफट अपना एक facebook का account बना लें और ( point 2 ) को ध्यान में रखते हुए ही उस profile या page का नाम रखें, इससे लोगो को अच्छा संकेत जायेगा जिससे के लोगो को आपके पेज के बारे में और आपके products के बारे में पता चलेगा। मान लीजिये के आपका interest जानवरो में है और specially dogs में तो आप उसके बारे में page create करिये इससे बाकी dog lovers को भी आपके page की suggestions जाएगी जिससे के आपके followers भी increase होंगे। अब आप सोच रहे होंगे के मैंने क्या करना है followers लेकर मुझे paise कमाने है। मैं आपको बता दूँ के ये followers ही last में आपके profit का कारण बनेंगे। कैसे ? पढ़ते रहिये आगे हम इसपर detail में बात करेंगे।

Choose a profitable niche

जब भी हम कोई facebook page या कोई भी पेज बनाते है तो सबसे पहले चीज़ होती है उसका topic. अगर आप अपना topic सही से चुन लेते है तो आपका आधा काम तो यही हो जाता है. आप कोशिश करें के हमेशा ही एक अच्छा Niche खोजें जिससे के आपकेपास कभी भी उससे रिलेटेड content की कमी न होने पाए।

आप ये सोच रहे होंगे के ” भई profitable Niche ” ढूंढेंगे कैसे ?

“Profitable Niche ” जिसका मतलब हुआ के आप अच्छा पैसा उससे generate कर पाओ। basically आप ऐसा कुछ choose कर सकते हो जाइए मैंने ऊपर बताया, मान लीजिये आप Dogs को sell करते है या आपका इसपर पेज है, तो अगर online कोई आपसे Puppy को खरीदना चाहे तो वो आसानी से आपतक पहुंच पायेगा। इससे आपका business बड़ा होगा और facebook से profit ऐसे ही कमाया जाता है। ऐसा कहना भी गलत नहीं होगा के जहाँ से पैसे बन पाए बनाओ। पर online लोग आपको जानेंगे कैसे ?

online views और sales के लिए 2 methord होते है Facebook Ads और Organic traffic जो के free होता है। पर आप अपने सेल्स को कैसे और किन तरीको से इनक्रीस करेंगे के आपको अच्छे खासे सेल्स मिल जाए। इसके बारे में हम अगले point में बात करेंगे।

Regular content publish करें

किसी भी online Business में आप तबतक successful नहीं हो सकते जबतक आप उस पर consistent नहीं हो। consistent का मतलब के अगर आपने page बना के छोड़ दिया के भई अब पैसे आएंगे, तो शायद ऐसा कभ नहीं होगा। आपको काम करना ही पड़ेगा। अगर आप ने पेज क्रिएट करलिया है अब आपको ये ध्यान रखना है के आपको regular रहना होगा। attractive post करें जिससे के लोग आपके पेज की तरफ attract हो। हमें अपने पेज पर अच्छा कंटेंट अपलोड करते रहना चाहिए जिससे के हमारी audiance उससे अच्छे से interact कर सके और इससे आपको followers और likes को बढ़ाने में भी मदद करता है।

रोज़ एक article publish करना कोई मुश्किल काम नहीं है, आप को रोज़ एक न एक post तो करना ही है

जो लोग चाहते है उन्हें वो दिखाए। पहला focus आपको interactive audiance को बनाने में मेहनत करनी होगी। क्योंकि अगर आपके पास traffic अच्छा होगा तो sales increase होने के chances होते ही है। जितना आप अपने content में regular होंगे और consistent होंगे उतने जल्दी ही आपको results दिखने लगेंगे।

audiance से engage करे ।

आपके page के existence के लिए audiance ही सबसे ज़रूरी है, और अगर आप उनसे interact नहीं करेंगे तो शायद आप अपना traffic खो रहे हैं। अगर आपका पेज या group active होगा तो लोग बोर नहीं होंगे, क्योंकि अगर लोग bore होने लगेंगे तो शायद आपका business खतरे में हो। कोशिश करें के आपक हर उस सवाल का जवाब दें जो के यदि आपसे कोई पूछता है तो। अपने ऑडियंस के साथ अपना relation अच्छा रखें जिससे के आप अगर कोई Sponsored content भी पोस्ट करते है तो लोग उसके साथ interact करेंग जिसके आपको पैसे मिलेंगे।

आप अपने users से interact करने के लिए कई सारे तरीको जैसे के audiace polls, posts और ऐसी बहुत सी चीज़ो का इस्तेमाल कर सकते है। इससे आपके audiance में आपके लिए एक अच्छी vibe रहती है। साथ ही अगर आप अच्छा काम करते है तो आपको viral भी होते देर नहीं लगेगी।

Facebook पर Products को sell करके paise kaise kamaye ?

आप facebook के make an offer फीचर का इस्तेमाल करके अच्छे पैसे कमा सकते है। साथ ही अगर आप affiliate products को sell करते है facebook आपके लिए अच्छी जगह हो सकती है। वहां पर आप अगर shoes sell करना चाहते हो तो आप ऐसे community को choose कर सकते हो जो के shoes में interested हो। ऐसा करने पर आपको अच्छा ख़ासा sales मिल जायेंगे और आपका affiliate Comission भी काफी अच्छा बन जायेगा।

साथ ही आप products और affiliate marketing के ज़रिये काफी अच्छा पैसा कमा सकते है।  आप अपने products का लिंक शेयर कर सकते है और साथ ही coupon code का भी इस्तेमाल कर सकते है और जब कोई उस लिंक के कुछ खरीदता है तोआपको काफी अच्छा पैसा मिल सकता है।आप online affiliate marketing websites का इस्तेमाल करके जैसे Flipkart ,amazon और भी काफी सारे, आप इनके affiliate प्रोग्राम में रजिस्टर कर सकते है और उनके products को sell करके काफी अच्छा पैसा कमा सकते है.

Facebook Account को sell करके पैसे कमाए?

क्या आपके पास भी कोई facebook page है जिसपर अच्छे खासे folowers हो, पर अब आप उसे नहीं चलते और वो खाली पड़ी है ? तो आप उसे बेच सकते हो। आज कल ये भी एक trend बन चूका है, Facebook Pages buy और sell करना बहुत ही टाइम से चले आ रहा है। अब आप अपना page sell कैसे करोगे? बहुत से ऐसे marketers और online business जल्दी से जल्दी ज़ायदा लोगो तक पहुंचने के लिए ये तरीका इस्तेमाल करते है। एक facebook Page पर काफी अच्छी बोली लगती है और साथ ही जितने ज़्यादा views और likes होंगे उस हिसाब से rates को decide किया जाता है।

आपको बस कोई ऐसा व्यक्ति ढूंढ़ना होगा जिसे के आपके page में interest हो, क्योंकि जैसे हीरे पे पहचान जोहरी को होती है वैसे ही असली page की पहचान expert को ही होती है।

Facebook Group से पैसे कमाए

इसके लिए पहले Facebook Group बनाना पड़ेगा. और कोशिश करिये की इसमें 10 हज़ार से ज्यादा लोग हों और सबसे important बात है की वो सारे active होने चाहिए. अपने group के members को हमेशा engage कर के रखना चाहिए. इसके लिए आप relevant questions, blog post, images और polls की मदद ले सकते हैं.

यहाँ आप निचे लिखे तरीकों का इस्तमाल कर पैसे कमा सकते हैं.

  •  Paid surveys
  •  Sponsored content को publish कर के
  •  अपने product/book/services को बेचकर
  •  Affiliate marketing products से

आशा करता हूँ के आपको पता चल गया होगा के facebook se paise kaise kamaye. अगर आपक्को ये post अच्छा लगा तो इसे अपने आस पड़ोस में और अपने दोस्तों को साथ ज़रूर share करें ताकि उन्हें भी इसके बारे में जानकारी मिल सके और वो भी facebook सॅ paise कमा सके।

हमेशा मेरी यही कोशिश रहती है के आपको सही और अच्छी information आप तक पंहुचा सकू और साथ ही आपको गुमराह होने से बचा सकू। अगर आपको हमारी facebook se paise kaise kamaye पर जानकारी पसंद आयी तो हमें नीचे कमेंट में लिख कर ज़रूर बताये। इससे हमें motivation मिलता है। साथ ही अगर आप कुछ और जानना चाहते हो तो आप हमें comments या फिर contact us page पर जाकर हमें Email भी कर सकते हो।

Essay on Raksha Bandhan for students in Hindi language

Essay on Raksha Bandhan for students in hindi:– नमश्कार, dainikdose.com पर आपका स्वागत है । आज रक्षा बंधन के इस पवन अवसर पर आपके लिए Raksha bandhan par hindi me nibandh लेकर आया हूँ। आप अगर स्कूल में है तो आपको जरूर ही ग्रह कार्य के रूप में राखी पर निबंध लिखने को मिला ही होगा।

हम बात करें रक्षा बंधन की तो राखी भारत के प्रमुख त्योहारों में से एक है| raksha bandhan को भी बहन के प्रेम के रूप में भी देखा जाता है। बहुत से लोगो के सिर्फ ये पता है के ये त्योहार भाई बहन के प्यार के रूप में मनाया जाता है । तो हाँ आप बिलकुल सही है, इस दिन को मनाया ही जाता है इसलिए, ये भाई बहन के प्रेम को दर्शाता और कुछ हद तक हर साल बढ़ाता भी है ।

जो साथ बड़े हुए है, जिनमे कई बार लड़ाई होती है पर फिर दोनों में से कोई एक मन भी लेता है। ये रिश्ता प्यार और मोहब्बत से भी ऊपर है , और ये रिश्ता भाई और बहन का होता है। शायद ही कोई दूसरा रिश्ता कभी इतना पवित्र हो सके। हज़ार लड़ाइयों के बाद भी जब बहन रूठ जाती है तो उसे मनाने भी ही आता है।

रक्षा बंधन भाई बहन के इसी प्रेम का एक छोटा सा दर्शन है | वैसे तो भाई बहन के प्रेम को किसी दिन की ज़रूरत नही होती पर जी हाँ raksha bandhan के दिन बहन भाई को राखी बांधती है और बदले में भी उसे कुछ उपहार देता है। साथ ही साथ भाई अपने बहन की रक्षा पूरे जीवन भर करने की कसम भी खाता है।

अब चलिए में आपके साथ शेयर करता हूँ। रक्षा बंधन पर निबंध और आपको इस अनमोल रिस्ते की गहराइयों में लेकर चलता हूँ।

रक्षा बंधन का त्यौहार About Raksha Bandhan in Hindi

रक्षा बंधन हर साल श्रवण माह में मनाया जाता है। जिसे भाई बहन के प्यार को दर्शाने के रूम में मनाया जाता हैं।

इस दिन बहन भाई के कलाई पर रेशन का धागा या राखी बांधती उसकी लम्बी उम्र की कामना करती है। साथ ही भाई उसे और अपने बहन की जीवन भर रक्षण करने का लेता है।

रक्षा बंधन का महत्व Importance of Raksha Bandhan in Hindi

रक्षाबंधन पर बहन भाई के कलाई पर राखी बांधती हैं और भाई अपनी बहन को सदैव साथ निभाने और उसकी रक्षा के लिए वचन देता है। रक्षा बंधन की यह परम्परा हमारे भारत देश में  काफी प्रचलित है, और ये श्रवण पूर्णिमा के दिन मनाया जाने वाला बहुत बड़ा त्यौहार है।

रक्षा बंधन का मतलब स्पष्ट है, रक्षा का एक अटूट बंधन। वैसे तो परंपरा के अनुसार इसे बहन अपने भाई के कलाई पर धागा बांधती है । पर इसे एक मित्रता के भाव से भी बाँधा जाता है। और इसे मित्रता का धागा भी कहा जा सकता है।

इसी कारण से , रक्षा बंधन ही वो त्यौहार है, जब बहनें अपने भाइयों के घर जाती हैं,और प्रेम भाव से अपने भाइयों को राखी बांधती हैं। ऐसा ज़रूरी नहीं है के सिर्फ राखी सेज भाई को ही बाँधी जाये, जिसे भी वो अपने भाई केरूप में देखती हैं बहने उन्हें राखी बाँध के बहन होने का पूरा फ़र्ज़ ऐडा करती हैं।

ये प्रथा इस देश में काफी प्रचलित है, और ये श्रावण पूर्णिमा का बहुत बड़ा त्यौहार है। आज ही के दिन यज्ञोपवीत बदला जाता है।

वैसे तो हर पूर्णिमा को कोई न कोई त्यौहार के लिए समर्पित किया गया है , पर क्या आप जानते हैं के रक्षा बंधन उन सबमे सबसे मतहत्वपूर्ण और बड़ा होता है। इस दिन भाई अपने बहन के प्रति अपने दाइत्वों और फ़र्ज़ का पालन करने का वचन लेता है।

साथ ही पूरी ज़िन्दगी अपने बहन की रक्षा करने का वचन लेता हैं। और पोरे देश में इसे बहुत ही हर्षा और उल्लास के साथ मनाया जाता है

रक्षा बंधन पर निबंध हिंदी में 150 शब्द – essay on raksha bandhan for students in hindi

essay on raksha bandhan in hindi

राखी या फिर रक्षा बंधन का ये पावन त्यौहार हर साल श्रावण मास में मनाया जाता है| रक्षाबंधन हिन्दू धर्म का एक सबसे महत्वपूर्ण त्योहार है जिस दिन बहन अपने भाई की कलाई पर रेशम की राखी बांधती है और उसके बदले में भाई अपनी इच्छानुसार अपनी बहन को तोहफे, देते हैं. बस इतना ही नही वो पूरे उम्र उसकी रक्षा करने का वचन भी देता है।

रक्षा बंधन का ये त्यौहार हर साल अगस्त के महीने में आता है|

इस वर्ष हम रक्षा बंधन 3 अगस्त को मनाएंगे | इसे पूरे देश भर में हिंदुओं द्वारा मनाया जाता है।

इस दिन बहन भाई के लंबी उम्र की कामना करती है और उसके हाथ पर रेशम का धागा बाँधती है और भाई बदले में पूरे उम्र अपने बहन की रक्षा का वचन लेता है।

रक्षा बंधन पर निबंध हिंदी में – essay on raksha bandhan in hindi for students (500 words )

परिचय

“बहना ने भाई के कलाई से प्यार बांधा है, प्यार के दो तार से संसार बांधा है” सुमन कल्याणपुर के इस गीत ने इन दो पंक्ति में ही पूरी राखी के महत्व का वर्णन कर दिया है। महिलाएं आज सरहद पर जाकर हमारे देश के सैनिकों को राखी बांधते हैं , क्योंकि वो बाहरी शक्तिओं से हमारी रक्षा करते हैं।

रक्षा बंदन का ये त्यौहार भाई और बहन को भावनातमक रूप से जोड़ता है। और बड़ी खुसे से ये त्यौहार मनाया जाता है।

रक्षा बंधन किसकिस स्थान पर मनाया जाता है

राखी या रक्षा बंधन का ये त्यौहार मुख्य रूप से भारत तथा नेपाल में मनाया जाता है। इसके अलावा मलेशिया तथा अन्य देशों में मनाया जाता है और उन सारे देशों में भी ,मनाया जाता है झा हिन्दू रहते हैं।

रक्षा बंधन का महत्व – importance of raksha bandhan in hindi

इस दिन का एक बहुत ही महत्वपूर्ण चीज़ है के ये त्यौहार भाई बहन को और ही करीब ले आता है। हम जिसे जानते नहीं हैं उसे भी रक्षी बाँध के भाई और बहन बना सकते हैं। राखी के इस त्यौहार को मानाने के लिए खून का रिश्ता होना कोई ज़रूरी नहीं होता है।

अब मैं आपको एक पौराणिक कहानी बताता हूँ जिससे आपको अंदाजा हो जायेगा रक्षा बंधन का महत्व के बारे में।

Essay on Raksha Bandhan for students in Hindi language

चित्तौड़गढ़ की महारानी कर्णावती ने जब देखा की उनकी सैनिक, बहादुर शाह के सेना का मुकाबला नहीं कर पाएंगे। इस वक़्त की नज़ाकत को समझते हुए रानी कर्णावती ने बहादुर शाह से मेवाड़ की रक्षा हेतु हुमायूँ को राखी बेहज दी । सम्राट हुमायूँ वैसे तो दुसरे धर्म के थे पर उसके बावजूद भी राखी के महत्व को समझते हुए हुमायूँ न बहादुर शाँह से युद्ध कर रानी कर्णावती को युद्ध में विजय दिलवाया।

आप अब तो समझ ही गए होंगे रक्षा बंधन के महत्व को।

रक्षा बंधन के महत्व से जुड़ी कुछ प्रसिद्ध पौराणिक कथा

रक्षा बंधन का इतिहास बहुत ही पुराना है।रक्षा बंधन के प्रचलित कहानियों में द्वापर युग की ये एक कहानी बहुत प्रसिद्ध है, एक बार श्री कृष्ण के उंगली कट जाने पर द्रौपदी ने अपनी साड़ी के एक कोने को फाड़ कर कृष्ण के हाथ पर बांध दिया।

कथा के अनुसार द्रौपदी के सबसे मुश्किल समय में श्री कृष्ण ने उस साड़ी के एक टुकड़े का कर्ज, द्रौपदी का चीर हरण होने से बचा कर निभाया।क्या आप जानते हैं , वह साड़ी का टुकड़ा कृष्ण ने राखी समझ कर स्वीकार किया था।

जैन धर्म में रक्षा बंधन क्यों और कैसे मनाते हैं?

अगर हम रक्षा बंधन की बात करें तो, ऐसा बोलना गलत नहीं होगा के ये और भी बहुत से धर्मो में मनाया जाता है। जैसे,जैन धर्म मे रक्षा बंधन का दिन बहुत शुभ माना जाता है इस दिन एक मुनि ने 700 मुनियों के प्राण बचाए थे। इस वजह से जैन धर्म से संबंध रखने वाले लोग इस दिवस पर हाथ में सूत का डोर बांधते हैं।

राखी के पर्व पर भाईबहन क्याक्या कर सकते हैं

  • भाई-बहन जहां भी निवास कर रहे हो राखी के समय पर एक-दूसरे से मिल सकते हैं और अवश्य ही मिलना चाहिए।
  • राखी के त्योहार को और ख़ास बनाने हेतु भाई बहन कहीं बाहर घुमने जा सकते हैं।
  • अपने-अपने जीवन में एक-दूसरे के महत्व को बताने के लिए वह उनके पसंद का उपहार उन्हें दे सकते हैं।
  • किसी पुरुष द्वारा महिला के प्रति भाई का फर्ज निभाने पर राखी के अवसर पर महिला उसे विशेष महसूस कराने के लिए राखी बांध सकती हैं।

निष्कर्ष

बहन भाई का रिश्ता खट्टा-मीठा होता है। जिसमें वह आपस में बहुत झगड़ते हैं पर एक-दूसरे से बात किए बिना नहीं रह सकते। राखी का पर्व उनके जीवन में एक-दूसरे के महत्व को बताने का कार्य करता है अतः हम सभी को यह उत्सव परंपरागत विधि से मनाना चाहिए।

essay on raksha bandhan in punjabi language – रक्षा बंधन पंजाबी में पर निबंध

Essay-on-Raksha-Bandhan-for-students-in-hindi

ਰਕਸ਼ਾ ਬੰਧਨ ਦਾ ਇਹ ਪਵਿੱਤਰ ਤਿਉਹਾਰ ਹਰ ਸਾਲ ਸ਼ਰਵਣ ਦੇ ਮਹੀਨੇ ਵਿੱਚ ਮਨਾਇਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ। ਜਿਸ ਦਿਨ ਭੈਣ ਆਪਣੇ ਭਰਾ ਦੀ ਗੁੱਟ ‘ਤੇ ਰੇਸ਼ਮੀ ਰੱਖੜੀ ਬੰਨਦੀ ਹੈ ਅਤੇ ਬਦਲੇ ਵਿਚ ਭਰਾ ਆਪਣੀ ਇੱਛਾ ਅਨੁਸਾਰ ਆਪਣੀ ਭੈਣ ਨੂੰ ਤੋਹਫ਼ਾ ਦਿੰਦਾ ਹੈ, ਉਸ ਦਿਨ ਹਿੰਦੂ ਧਰਮ ਦਾ ਸਭ ਤੋਂ ਮਹੱਤਵਪੂਰਨ ਤਿਉਹਾਰ ਰਕਸ਼ਾਬਧਨ ਹੈ। ਸਿਰਫ ਇਹ ਹੀ ਨਹੀਂ, ਉਹ ਸਾਰੀ ਉਮਰ ਇਸਦੀ ਰੱਖਿਆ ਕਰਨ ਦਾ ਵਾਅਦਾ ਵੀ ਕਰਦਾ ਹੈ.
ਰਕਸ਼ਾ ਬੰਧਨ ਦਾ ਇਹ ਤਿਉਹਾਰ ਹਰ ਸਾਲ ਅਗਸਤ ਦੇ ਮਹੀਨੇ ਵਿੱਚ ਆਉਂਦਾ ਹੈ.

ਸ ਸਾਲ ਅਸੀਂ 3 ਅਗਸਤ ਨੂੰ ਰਕਸ਼ਾ ਬੰਧਨ ਮਨਾਵਾਂਗੇ. ਇਹ ਦੇਸ਼ ਭਰ ਦੇ ਹਿੰਦੂਆਂ ਦੁਆਰਾ ਮਨਾਇਆ ਜਾਂਦਾ ਹੈ.


ਇਸ ਦਿਨ, ਭੈਣ ਭਰਾ ਨੂੰ ਲੰਬੀ ਉਮਰ ਦੀ ਕਾਮਨਾ ਕਰਦੀ ਹੈ ਅਤੇ ਆਪਣੇ ਹੱਥ ‘ਤੇ ਰੇਸ਼ਮੀ ਧਾਗਾ ਬੰਨ੍ਹਦੀ ਹੈ ਅਤੇ ਬਦਲੇ ਵਿਚ ਭਰਾ ਆਪਣੀ ਭੈਣ ਨੂੰ ਸਾਰੀ ਉਮਰ ਬਚਾਉਣ ਦੀ ਕਸਮ ਖਾਂਦਾ ਹੈ.

short essay on raksha bandhan in marathi (150 words ) – रक्षा बंधन पर निबंध मराठी में (150 शब्द )

रक्षाबंधन हा पवित्र उत्सव दरवर्षी श्रावण महिन्यात साजरा केला जातो. ज्या दिवशी बहिण आपल्या भावाच्या मनगटावर रेशीम राखी बांधते त्या दिवशी रक्षाबंधन हा हिंदू धर्मातील सर्वात महत्वाचा उत्सव आहे आणि त्या बदल्यात भाऊ आपल्या बहिणीला आपल्या इच्छेनुसार भेटवस्तू देईल. एवढेच नाही तर तो आयुष्यभर त्याचे संरक्षण करण्याचे वचन देतो.


रक्षाबंधनाचा हा सण दरवर्षी ऑगस्ट महिन्यात पडतो.


यावर्षी आपण 3 ऑगस्ट रोजी रक्षाबंधन साजरा करू. हा देशभरातील हिंदूंनी साजरा केला आहे.


या दिवशी, बहिणीने भावाला दीर्घायुषी शुभेच्छा दिल्या आहेत आणि हातात रेशीम धागा बांधला आहे आणि त्या बदल्यात भाऊने आयुष्यभर आपल्या बहिणीचे रक्षण करण्याचे वचन दिले आहे.

तो इसी के साथ हम अब इस लेख के अंत पर आ गए हैं। अगर आपको हमारा रक्षा बंधन पर निबंध का ये लेख पसंद आया तो इसे ज़रूर शेयर कीजिये। और नीचे कमेंट में लिख कर बताइये आपको हमारे ये पोस्ट Essay on Raksha Bandhan for students कैसा लगा।

अगर आप के पास कोई सुझाव है तो हमें नीचे कमेंट में लिख कर भी ज़रूर बताइये या आप हमारे contact us पेज पर जाके भी हमसे संपर्क कर सकते हैं।

Essay on Raksha Bandhan in Hindi – राखी पर हिंदी में निबंध

भारत त्योहरों का देश है और यहां  मनाये जाने वाले हर त्यौहार का कुछ न कुछ मतलब ज़रूर होता है।  भारत में कई त्यौहार मनाये जाते है , दिवाली, दसहरा और काफी बहुत से त्यौहार है जो के हम मानते तो है पर अगर हमे उनका महत्व पता हो तो शायद हम और भी अच्छे से उस त्यौहार को मना सकते है। 

रक्षा बंधन का  पावन त्यौहार पुरे भारत में बड़े ही हर्ष और उल्लास से मनाया जाता है। इस त्यौहार को  राखी का त्यौहार भी कहा जाता है। रक्षा बंधन को सिर्फ भरा में ही नहीं बल्कि नेपाल और मलेशिया जैसे देशो में भी मनाया जाता है। रक्षा बंधन के दिन भाई अपनी बहन की रक्षा करने का वचन देता है और साथ ही बहन भाई के कलाई पर राखी बांधती है। 

श्रावण पूर्णिमा के दिन ही ये त्यौहार को मनाया जाता है।

तो दोस्तों आपको ये essay on raksha bandhan for students in hindi कैसा लगा हमें comment में ज़रूर बताये और साथ ही अपने दोस्तों के साथ भी इस रक्षा बंधन पर निबंध को शेयर करें।